पद्म भूषण के लिए पीवी सिन्धु के नाम की खेल मंत्रालय ने की सिफारिश

बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिन्धु को पद्म भूषण देने की सिफारिश खेल मंत्रालय ने की है. पीवी सिन्धु ने (PV Sindhu) कोरिया ओपन जीतकर इतिहास रच दिया था. सिंधु ने नोजोमी ओकुहारा को एक घंटे 24 मिनट तक चले मुकाबले में 22-20, 21-11, 21-18 से मात दी थी. इसी के साथ सिंधु ने ओकुहारा से अपनी हार का हिसाब भी चुकता कर लिया. सिंधु कोरियाई ओपन सुपर सीरीज जीतने वाली पहली खिलाड़ी बन गई.

पीवी सिन्धु (PV Sindhu) के नाम की खेल मंत्रालय ने की सिफारिश:

  • ओलंपिक मेडलिस्ट पीवी सिन्धु को पद्म भूषण देने की सिफारिश खेल मंत्रालय ने की है.
  • हाल के दिनों में पीवी सिन्धु ने अपने खेल से भारतीयों को रोमांचित कर दिया.
  • देश के लिए कई प्रतिष्ठित टूर्नामेंट जीतने वाली बैडमिंटन खिलाड़ी के नाम की सिफारिश खेल मंत्रालय ने की है.
  • हालाँकि पिछले दिनों पीवी सिन्धु जापान ओपन के शुरुआती दौर में ही हारकर बाहर हो गईं थीं.

BCCI ने धोनी के नाम की सिफारिश की:

  • इसके पहले भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी का नाम भी सामने आया था.
  • बीसीसीआई के कार्यकारी अध्यक्ष सी.के. खन्ना ने कहा कि यह सत्य है.
  • हमने पद्म भूषण के लिए धौनी के नाम की सिफारिश की है.
  • इससे पहले, दिग्गज क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर, कपिल देव, राहुल द्रविड़ और चंदू बोर्डे को इस सम्मान से नवाजा जा चुका है.

सिंधु और निखार गर्ग बीडब्ल्यूएफ एथलीट आयोग की दौड़ में हुए शामिल!

ओलंपिक रजत पदक विजेता भारतीय स्टार शटलर पीवी सिंधु विश्व बैडमिंटन महासंघ (बीडब्ल्यूएफ) के एथलीट आयोग में पद के लिए दावेदार हैं। सिंधु उन नौ शटलरों में शामिल है जो बीडब्ल्यूएफ में पद की दौड़ में हैं। बता दें कि हाल ही में सिंधु अपने करियर की सर्वश्रेष्ठ रैंकिंग पर पहुँची।

सिंधु के साथ निखर गर्ग में इस दौड़ में शामिल-

  • भारत की स्टार शटलर पीवी सिंधु विश्व बैडमिंटन महासंघ (बीडब्ल्यूएफ) के एथलीट आयोग में पद की दावेदार हैं।
  • नौ शटलर में सिंधु के साथ-साथ भारत का एक और दावेदार इस दौड़ में शामिल है।
  • कुल चार स्थान के लिए सिंधु के साथ पुरुष खिलाड़ी निखार गर्ग भी इस पद के लिए दावेदार है।
  • सिंधु को हाल ही में टाइम्स ऑफ इंडिया स्पोर्ट्स अवॉर्ड (TOISA) में स्पोर्ट्स पर्सन ऑफ द इयर चुना गया था।
  • जनवरी में पुरुष खिलाड़ी निखार गर्ग की युगल रैंकिंग 374 थी।
  • गर्ग ने बीडब्ल्यूएफ एथलीट अयोग में एक स्थान के लिए चुनाव लड़ने की इच्छा जताई थी।
  • इसलिए इस पद के लिए उनका नामंकन किया गया।
  • बीडब्ल्यूएफ के एथलीट आयोग के लिये नामांकन 27 मार्च को समाप्त हो गया था।
  • इस पद के लिये छह पुरुष और तीन महिलाएं दौड़ में हैं।

यह भी पढ़ें: पीवी सिंधु आने वाले कुछ सालों में भारत को आगे ले जाएंगी: पुलेला गोपीचंद

यह भी पढ़ें: करियर की सर्वश्रेष्ठ रैंकिंग पर पहुंची शटलर पीवी सिंधु!

करियर की सर्वश्रेष्ठ रैंकिंग पर पहुंची शटलर पीवी सिंधु!

1

भारतीय शटलर पीवी सिंधु अपने करियर की सर्वश्रेष्ठ रैंकिंग पर पहुँच गई है. विश्व रैंकिंग में सिंधु दूसरे स्थान पर है. ओलिंपिक सिल्वर मेडलिस्ट सिंधु ने हाल ही में इंडिया ओपन में कट्टर प्रतिद्वंद्वी कैरोलिना मरिन को 21-19 21-16 से मात दी थी. कैरोलिना मरिन ने 2016 ओलिंपिक में पीवी सिंधु को मात दी थी.

करियर की सर्वश्रेष्ठ रैंकिंग पर पीवी सिंधु-

  • पीवी सिंधु अपने करियर की सर्वश्रेष्ठ रैंकिंग पर पहुँच गई है.
  • वर्ल्ड रैंकिंग में पीवी सिंधु ने दूसरे स्थान पर कब्ज़ा जमाया है.
  • अभी हाल ही में सिंधु ने इंडियन ओपन सुपर सीरीज खिताब जीता है.
  • इंडिया ओपन में सिंधु ने कट्टर प्रतिद्वंद्वी कैरोलिना मरिन को 21-19 21-16 से मात दी थी.
  • बता दें कि चाइना ओपन के बाद यह भारतीय शटलर पीवी सिंधु का दूसरा सुपर-सीरीज टाइटल है.
  • इस जीत के बाद उनकी रैंकिंग में ज़बरदस्त उछाल तय मानी जा रही थी.
  • विश्व वरीयता प्राप्त भारतीय महिला शटलर पीवी सिंधु ने 2016 ओलिंपिक में महिला एकल बैडमिंटन में रजत पदक जीता था.
  • इसके अलावा पीवी सिंधु ने हांगकांग सुपर सीरीज़ में फाइनल में भी अपनी जगह बनाई थी.

यह भी पढ़ें: मास्टर-ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर ने छेड़ी ‘क्रिकेट वाली बीट’!

यह भी पढ़ें: आईपीएल के ज़रिये भारतीय टीम में वापसी करना चाहते हैं शिखर धवन

1

पीवी सिंधु आने वाले कुछ सालों में भारत को आगे ले जाएंगी: पुलेला गोपीचंद

बैडमिंटन के मुख्य राष्ट्रीय कोच पुलेला गोपीचंद के मुताबिक पीवी सिंधु अगले चार साल तक भारतीय बैडमिंटन को आगे लेकर जाएंगी। बता दें कि सिंधु ने 2016 ओलंपिक में रजत पदक जीता था।

अगला बड़ा सितारा आने में लगेगा समय-

  • कोच पुलेला गोपीचंद ने कहा, ‘सिंधु केवल 21 वर्ष की है और आने वाले कुछ सालों में वो भारत को आगे ले जाएंगी।’
  • उनके मुताबिक टोक्यो 2020 ओलंपिक में भारत के पास अच्छी बेंच स्ट्रैंथ होगी।
  • साथ ही कोच पुलेला गोपीचंद ने कहा कि अगले नए और बड़े सितारे को आगे आने में समय लगेगा।
  • उन्होंने कहा कि खिलाड़ियों को तैयार करना आसान नहीं होता है।
  • पुलेला गोपीचंद ने बताया कि रितुपर्णा और रूतविका जैसे खिलाड़ियों के पास अच्छा प्रदर्शन करने की क्षमता है।
  • इसके साथ ही उन्होंने कहा कि सिक्की और प्रणव अच्छा कर रहे है।
  • उन्होंने बताया कि सात्विक और चिराग भी बेहतर प्रदर्शन कर रहे है।
  • पुलेला गोपीचंद ने बताया कि भारतीय बैडमिंटन के लिए अच्छा इशारा है।
  • उन्होंने बताया कि देश में कम से कम छह से सात खिलाड़ी है जो 20 साल से कम उम्र के है।

यह भी पढ़ें: इंडिया ओपन: क्वार्टर फाइनल में पीवी सिंधु ने दी साइना नेहवाल को मात!

यह भी पढ़ें: सुरेश रैना ने किया खुलासा, क्यों हैं क्रिकेट से काफी समय से दूर!

इंडिया ओपन: क्वार्टर फाइनल में पीवी सिंधु ने दी साइना नेहवाल को मात!

1

इंडियन ओपन बैडमिंटन सुपर सीरीज में भारत को दो दिग्गज और स्टार प्लेयर साइना नेहवाल और पीवी सिंधु आमने-सामने थी। मुकाबला बेहद मुश्किल था। दोनों अनुभवी खिलाड़ियों ने एक-दूसरे को कांटें की टक्कर दी लेकिन अंत में जीत सिंधु के हाथ लगी।

सिंधु ने साइना को हराया-

हार बार जीतना चाहती है साइना-

  • जीत के बाद सिंधु ने बताया कि उन्होंने आत्मविश्वास के कारण साइना पर जीत हासिल की।
  • उन्होंने कहा कि वो अपने हार प्रतिस्पर्धी के खिलाफ 100 प्रतिशत देती है।
  • सिंधु ने कहा, ’मैं केवल साइना के खिलाफ ही नहीं बल्कि हर बार जीतना चाहती हूं।’
  • आगे उन्होंने कहा कि सिंधु-साइना की बीच की प्रतिस्पर्धा कोई प्रतिस्पर्धा नहीं है।
  • उन्होंने बताया कि जब दोनों खिलाड़ी कोर्ट में होते है तो मुकाबला होता है, लेकिन कोर्ट के बाहर दोनों स्टार खिलाड़ी अच्छे दोस्त है।

यह भी पढ़ें: लखनऊ में होने वाले राष्ट्रीय हॉकी चैम्पियनशिप की तारीख़ आगे बढ़ी!

यह भी पढ़ें: प्रो-कबड्डी लीग के पांचवें संस्करण में 8 की जगह 12 टीमें लेंगी हिस्सा!

1

साइना-सिंधु हुई ऑल इंग्लैंड चैंपियनशिप से बाहर, भारतीय चुनौती हुई समाप्त

आॅल इंग्लैंड ओपन बैडमिंटन चैंपियनशिप में भारतीय चुनौती उस वक्त समाप्त हो गई जब पीवी सिंधु और साइना नेहवाल अपनी-अपनी चुनौती में प्रतिद्वंदी खिलाड़ी से हार गई और चैंपियनशिप से बाहर हो गई।

साइना और सिंधु हुई बाहर-

  • ओलंपिक में रजत पदक विजेता पीवी सिंधु चैंपियनशिप के क्वार्टर फाइनल में हार का सामना करना पड़ा।
  • सिंधु को चीनी ताइपे की ताई जु यिंग से हार मिली।
  • टूर्नामेंट का यह मैच 34 मिनट तक खेला गया।
  • इस क्वार्टर फाइनल में सिंधु को 21-14, 21-10 से हार का सामना करना पड़ा।
  • इसके अलावा साइना नेहवाल भी इस टूर्नामेंट में हार के साथ बाहर हुई।
  • भारत की स्टार बद्मिन्तोमं प्लेयर साइना को सुंग जि ह्युन ने मात दी।
  • 34 मिनट के इस खेल में साइना ने जीत के लिए कई कोशिशें की, लेकिन असफल रहीं।
  • सुंग ने साइना को 20-22, 20-22 से हार मिली।
  • साइना का कोरियाई खिलाड़ी के खिलाफ रिकार्ड 6 -1 का था।
  • लेकिन इस मैच में वह अपनी ख्याति के अनुरूप प्रदर्शन नहीं कर सकीं।
  • इस टूर्नामेंट में पुरुष एकल में भारत का प्रतिनिधित्व कर रहे एचएस प्रनॉय पहले ही बाहर हो गए है।

यह भी पढ़ें: किंग्स इलेवन पंजाब की कमान अब इस ऑस्ट्रेलिया खिलाड़ी के नाम

यह भी पढ़ें: ऑल इंग्लैंड चैंपियनशिप: सायना-सिंधु क्वार्टर फाइनल में, प्रनॉय हुए बाहर

ऑल इंग्लैंड चैंपियनशिप: सायना-सिंधु क्वार्टर फाइनल में, प्रनॉय हुए बाहर

ऑल इंग्लैंड चैंपियनशिप में भारत की ओलंपिक रजत विजेता पीवी सिंधु और स्टार बैडमिंटन प्लेयर सायना नेहवाल ने अपने-अपने मुकाबलों में अपना विजयी अभियान जारी रखते हुए क्वार्टर फाइनल में अपनी जगह बना ली है. लेकिन पुरुष एकल में भारत का प्रतिनिधित्व कर रहे एचएस प्रनॉय इस टूर्नामेंट से बाहर हो गए है.

सिंधु और सायना क्वार्टर फाइनल में-

  • भारत का प्रतिनिधित्व कर रही सायना नेहवाल और पीवी सिंधु ने इस प्रतियोगिता के क्वार्टर फाइनल में अपनी जगह पक्की कर ली है.
  • सिंधु ने इंडोनेशिया की दिनार दियाह को दूसरे दौर में मात दी.
  • 30 मिनट के खेल में सिंधु ने अपनी प्रतिद्वंदी खिलाड़ी दिनार को 21-12, 21-4 से मुकाबले में परास्त किया.
  • जबकि सायना ने दूसरे दौर में जर्मनी की फेबियेने देपरेज को हराया.
  • सायना ने फेबियेने देपरेज को 21-18, 21-10 से शिकस्त दी.

प्रनॉय हुए बाहर-

  • पुरुष एकल में भारत का प्रतिनिधित्व कर रहे एचएस प्रनॉय को दूसरे मुकाबले में हार का मुहँ देखना पड़ा.
  • एचएस प्रनॉय को सातवीं वरीयता प्राप्त चीन के तियान होवेई से हार मिली.
  • प्रनॉय को तियान होवेई ने 21-13, 21-5 से मात दी.

यह भी पढ़ें: साइना, सिंधु और प्रणय ने ऑल इंग्लैंड बैडमिंटन चैंपियनशिप में किया विजयी आगाज़

यह भी पढ़ें: विराट कोहली और रविचंद्रन अश्विन को बीसीसीआई ने किया सम्मानित

विज्ञापन के मामले में पीवी सिंधु निकली महेंद्र सिंह धोनी से आगे

रियो ओलंपिक में रजत पदक जीतकर भारत का नाम रोशन करने वाली पीवी सिंधु विज्ञापन के मामले में भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को पछाड़ दिया है। इस मामले में पीवी सिंधु केवल भारतीय कप्तान विराट कोहली के पीछे है।

पदक जीतने के बाद बढ़ी सिंधु की ब्रांड वैल्यू-

  • रियो में पदक जीतने के बाद पीवी सिंधु की वैल्यू 15 से 20 लाख रुपये बढ़कर 1 करोड़ है।
  • पीवी सिंधु की ब्रांड वैल्यू धोनी, सानिया मिर्जा और साइना नेहवाल से भी अधिक है।
  • सिंधु की एंडोर्समेंट फीस 1 से 1.2 करोड़ रुपये प्रतिदिन है।
  • गौरतलब है कि विराट कोहली की एंडोर्समेंट फीस 2 करोड़ रुपये प्रतिदिन है।
  • मालूम हो कि हाल ही में सिंधु ने 3 साल के लिए एक करार किया है।
  • इस करार में उन्हें 50 करोड़ रुपये की गारंटी दी गई है।
  • बता दे कि पीवी सिंधु ओलंपिक में रजत पदक जीतने वाली पहली भारतीय महिला एथलीट है।
  • इन दिनों सिंधु लगातार जबरदस्त प्रदर्शन कर रहीं है।
  • ऐसे में उनकी ब्रांड वैल्यू में लगातार बढ़त हो रही है।
  • पिछले कुछ दिनों में सिंधु ने करीब 30 करोड़ से अधिक की डील साइन कर चुकी है।

यह भी पढ़ें: महिला खिलाड़ियों के लिए खेल मंत्रालय ने किया विशेष समिति का गठन

यह भी पढ़ें: साइना, सिंधु और प्रणय ने ऑल इंग्लैंड बैडमिंटन चैंपियनशिप में किया विजयी आगाज़

साइना, सिंधु और प्रणय ने ऑल इंग्लैंड बैडमिंटन चैंपियनशिप में किया विजयी आगाज़

ऑल इंग्लैंड बैडमिंटन चैंपियनशिप में भारतीय खिलाड़ियों ने विजयी आगाज किया है। साइना नेहवाल ने जापानी शटलर को हराकर दूसरे राउंड में अपना स्थान बनाया। इसके साथ ही पीवी सिंधु ने टूर्नामेंट में शानदार शुरूआत की। पुरूष शटलर एचएस प्रनॉय ने भी अपनी पहली बाधा पार करने में सफल रहे।

भारत ने की जीत की शुरूआत-

  • भारतीय स्टार शटलर साइना नेहवाल ने पिछले साल की जापानी चैंपियन नोजोमी ओकुहारा को हराया।
  • साइना ने नोजोमी ओकुहारा को 21-15, 21-14 से हराकर दूसरे राउंड में प्रवेश किया।
  • इसके साथ ही साइना ने नोजोमी ओकुहारा से 2015 में मिली हार का बदला भी ले लिया।
  • साइना नेहवाल के अलावा ओलंपिक में रजत पदक जीतने वाली पीवी सिंधु ने भी जबरदस्त शुरूआत की।
  • छठी वरीयता शटलर पीवी सिंधु ने डेनमार्क की मेट्टे पोलसेन को केवल 29 मिनट में हरा दिया।
  • सिंधु ने मेट्टे पोलसेन ने 21-10, 21-11 से मात दी।
  • अब दूसरे दौर में सिंधु का सामना इंडोनेशिया की दिनार दियाह से होगा।
  • पुरुष एकल वर्ग में भारतीय पुरुष खिलाड़ी एचएस प्रनॉय ने चीन के कियाओ बिन को 17-21,22-20, 21-19 से हराया।

श्रीकांत हुए बाहर-

यह भी पढ़ें: फीफा अंडर-17 वर्ल्ड कप के लिए लांच हुआ वालंटियर कार्यक्रम