9 लाख लोग IT के निशाने पर, खत्म हुई संदिग्ध जमा पर सफाई की तिथि!

8 नवंबर 2016 को  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नोटबंदी का ऐलान करते हुए 500 और 1000 रुपये की प्रचलित करेंसी को अमान्य घोषित कर दिया था। इसके बदले 2000 और 500 के नये नोट का संचालन किया गया। नोटबंदी के दौरान इनकम टैक्स विभाग ने पांच लाख रुपए से अधिक की बैंक में जमा करने वाले ऐसे 18 लाख लोगों को अपने ऑपरेशन क्लीन मनी के तहत एसएमएस तथा ईमेल भेजे थे। जिसके तहत सभी खाताधारकों से डिपॉजिट और श्रोत के बारे में सफाई देने के लिए 15 फरवरी तक का समय दिया गया था। जो अब समाप्त हो गया।

इनकम टैक्स विभाग के घेरे में आये 9 लाख लोग:

  • नोटबंदी के बाद संदिग्ध बैंक डिपॉजिट के तहत 18 लाख लोग जांच दायरे में आये थे।
  • इसके तहत ऐसे लोगों को एसएमएस और ईमेल भेजकर सवाल पूछे गए थे।
  • जिसके जवाब के लिए डिपार्टमेंट ने 15 फरवरी की डेडलाइन दी थी।
  • 15 फरवरी 2017 तक पुरानी करेंसी डिपॉजिट के संबंध में 7 लाख लोगों ने इनकम टैक्स विभाग के समक्ष सफाई दी।
  • 7 लाख लोगों से जवाब मिलने के बाद 15 फरवरी को सफाई की मियाद खत्म हो चुकी है।
  • अब इस मामले में टैक्स विभाग के फंदे में 9 लाख लोग हैं।

कार्रवाई नई टैक्स छूट योजना की अवधि समाप्त होने के बाद:

  • आधिकारिक सूत्रों के अनुसार बैंक जमा पर प्राप्त सात लाख जवाबों में मिले आंकड़ों में से 99 प्रतिशत सही मिले है।
  • इनकम टैक्स विभाग द्वारा बैंक डिपॉजिट पर ईमेल और एसएमएस से भेजे गये थे।
  • जिसमें सवालों का जवाब नहीं देने वालों को अब गैर-सांविधिक पत्र भेजे गए हैं।
  • सूत्रों के मुताबिक इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने 9 लाख खाताधारकों को संदिग्ध कैटेगरी में रखा है।
  • अब इन लोगों के खिलाफ अगली कारवाई के लिए तैयारी की जा रही है।
  • इनके खिलाफ कार्रवाई नई टैक्स छूट योजना की अवधि समाप्त होने के बाद की जाएगी।
  • नई टैक्स छूट योजना की अवधि 31 मार्च को पूरी हो रही है।

राम नाम जपना गरीब का माल अपना मोदी का मिशन है-राहुल गांधी

कांग्रेस द्वारा आयोजित एक दिवसीय जन वेदना सम्मलेन में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री मोदी को आड़े हाथों लिया.राहुल गाँधी बोले कांग्रेस डरो मत का नारा लगाती है.जबकि भारतीय जनता पार्टी डरो और डराओ का नारा  लगाती है.

मेरा नाम मोदी है मैं तुम्हारी ज़मीन छीन सकता है

  • राहुल गाँधी ने किसानों की ज़मीन छीने जाने पर ये बयान दिया है.
  • भारत एक अकलमंद देश है जिसने अंग्रेजों को भगाया है.
  • मोदी सरकार को भी अप ही लोग भागायेंगें.
  • राहुल गाँधी बोले नोट बंदी पर भारत के करोड़ों लोग लाइनों में खड़े थे.
  • किसी भी भ्रष्ट व्यक्ति को वहां खड़ा नहीं पाया गया.

आर्मी की देखा देखी किसानों पर मोदी की सर्जिकल स्ट्राइक

  • राहुल गांधी ने नोट बंदी को सर्जिकल स्ट्राइक कहा.
  • प्रधानमंत्री ने सोचा होगा की जब भारतीय आर्मी सीमा पर सर्जिकल स्ट्राइक कर सकती है.
  • तो मैं  देश की गरीब जनता पर सर्जिकल स्ट्राइक कर देता हूँ.
  • प्रधानमंत्री मोदी केवल डायलोग मारना जानते हैं.
  • मित्रों ये मित्रों वों के नाम पर वो बहुत कुछ कह जाते हैं.
  • राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर आरोपों की बरसात करते हुए कहा.
  • इस सूट बूट की सरकार की अलग ही फिलोसिफी  है.

राम नाम जपना गरीब का माल अपना मोदी का मिशन है

  • राहुल गाँधी ने भाजपा सरकार पर गरीबों का पैसा गबन करने का आरोप लगाया.
  • भारतीय जनता पार्टी देश को बर्बाद कर रही है.
  • भ्रष्टाचार फैला रही है.नफरत फैला रही है.
  • नोटबंदी को भारत में लागू करके देश की बर्बादी हो रही है.

 

प्रधानमन्त्री मोदी के लिए अच्छे चौराहे का चुनाव करने का समय आ गया है-अहमद पटेल

कांग्रेस ने आज एक दिवसीय जन संवेदना सम्मलेन पर मोर्चा खोला.तालकटोरा स्टेडियम में चल रहे इस कार्यक्रम को राहुल गाँधी संबोधित कर रहे हैं.कोंग्रेस के नेता अहमद पटेल ने मोदी पर ज़ोरदार हमला बोला.मोदी जी द्वारा कहा गया था की पचास दिन बाद अगर स्तिथि ठीक नहीं होगी तो आप जिस चौराहे पर बोलोगे मैं सज़ा को ख़ुशी ख़ुशी अपनाऊंगा.वक़्त आ गया है प्रधानमन्त्री मोदी के लिए एक अच्छे चौराहे का चुनाव करने की.

 

आज कांग्रेस भाजपा के खिलाफ खोलेगी जन वेदना सम्मेलन मोर्चा!

केंद्र सरकार की जनविरोधी योजनाओं के खिलाफ इंडियन नेशनल कांग्रेस आज एक  दिवसीय राष्ट्रीय सम्मेलन आयोजित करेगी जिसमें केंद्र के खिलाफ आन्दोलन पर रणनीति तैयार की जायेगी.कल राहुल गंधी के छुट्टी से लौटने के बाद उनके आवास पर एक बैठक हुई जिसमे सोनिया गांधी,प्रियंका गांधी और कैप्टेन अमरिंदर सिंह मौजूद थे.इस बैठक में नवजोत सिंह सिद्धू के कांग्रेस में शामिल होने पर भी चर्चा हुई.

राहुल गांधी की अध्यक्षता में राष्ट्रीय सम्मलेन आयोजित

  • कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी कान्ग्रेस कार्यकर्ताओं को संबोधित कर सकते हैं.
  • भारतीय जनता पार्टी और केंद्र के खिलाफ मोर्चा खोलने पर रणनीति तय होगी.
  • कांग्रेस महासचिव सी पी जोशी ने जानकारी दी की सम्मलेन तालकटोरा स्टेडियम में आयोजित होगा.
  • सम्मलेन का नाम जन वेदना सम्मलेन होगा.
  • पार्टी के राष्ट्रीय नेता,राज्य नेता सांसद विधायक अध्यक्ष और जिला अध्यक्ष भाग लेंगें.
  • आन्दोलन करने का मकसद केंद्र द्वारा लायी गई नोट बंदी पर जारी परेशानियों को उजागर करना होगा.
  • भाजपा द्वारा चुनावों से पहले लाया जा रहा बजट भी इस आन्दोलन का मुद्दा रहेगा.
  • केंद्र सरकार द्वारा लाये गए जन विरोधी फैसलों का विरोध करेगी कांग्रेस.
  • नवजोत सिंह सिद्धू कांग्रेस में एक दो दिन में शामिल हो सकते हैं.
  • भारतीय जनता पार्टी का साथ छोड़ कर सिद्धू इंडियन नेशनल कांग्रेस में शामिल हो रहे हैं.

भाजपा के खिलाफ कांग्रेस का जन वेदना सम्मलेन 11 जनवरी को!

केंद्र सरकार की जनविरोधी योजनाओं के खिलाफ इंडियन नेशनल कांग्रेस ग्यारह जनवरी को एक दिवसीय राष्ट्रीय सम्मेलन आयोजित करेगी जिसमें केंद्र के खिलाफ आन्दोलन पर रणनीति तैयार की जायेगी.

राहुल गांधी की अध्यक्षता में राष्ट्रीय सम्मलेन आयोजित

  • कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी कान्ग्रेस कार्यकर्ताओं को.
  • भारतीय जनता पार्टी और केंद्र के खिलाफ मोर्चा खोलने पर रणनीति तय होगी.
  • कांग्रेस महासचिव सी पी जोशी ने जानकारी दी की सम्मलेन तालकटोरा स्टेडियम में आयोजित होगा.
  • सम्मलेन का नाम जन वेदना सम्मलेन होगा.
  • पार्टी के राष्ट्रीय नेता,राज्य नेता सांसद विधायक अध्यक्ष और जिला अध्यक्ष भाग लेंगें.
  • आन्दोलन करने का मकसद केंद्र द्वारा लायी गई नोट बंदी पर जारी परेशानियों को उजागर करना होगा.
  • भाजपा द्वारा चुनावों से पहले लाया जा रहा बजट भी इस आन्दोलन का मुद्दा रहेगा.
  • केंद्र सरकार द्वारा लाये गए जन विरोधी फैसलों का विरोध करेगी कांग्रेस.

पारसमल लोधा को तीन दिन की सीबीआई कस्टडी में भेजा गया!

पारसमल लोधा की गिरफ्तारी के मामले में दिल्ली की साकेत कोर्ट ने पारसमल लोधा को तीन दिन की सीबीआई कस्टडी में भेज दिया है .पच्चीस करोड़ के साथ पकडे गए कोलकता व्यापारी  परसामल लोधा को कोर्ट ने सात दिन की एनफोर्समेंट डायरेक्टर की न्यायिक हिरासत में भेज दिया था .एनफोर्समेंट डायरेक्टर ने कोलकता के पारस माल लोधा को पच्चीस  करोड़ के पुराने नोटों के साथ पकड़ा है आरोपी मुंबई एअरपोर्ट से गिरफ्तार किया गया था.

कोलकता के जाने माने व्यापारी हैं पारसमल

  •  पेशे से कोलकता के बिजनेसमैन है पारसमल.
  • नोट बंदी के कानून से बचने के लिए ये मलेशिया भाग रहे थे.
  • आज दिल्ली कोर्ट में पारस माल  की पेशी थी .
  • जिसके बाद उन्हें सीबीआई कस्टडी में भेज दिया गया.
  • अहम पूछताछ कर और जानकारी इकठ्ठा करेगी सीबीआई .

इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने 13 करोड़ से ज्यादा नोट पकड़े थे

  • रोहित टंडन के साउथ दिल्ली के ऑफिस में  पुलिस ने पहले छापे मारी की थी.
  • जिसमे तेरहा करोड़ से ज्यादा काला धन पकड़ा गया था.
  • जांच में पता चला है की पकड़ा गया पैसा रेकेटेर्स का है.
  • जो नेशनल और विदेशी तरीके से जमा किया गया है.
  • हवाला के रेकेटेर्स का नाम इसमें आ रहा है.
  • मामला बेहद गंभीर है आने वाली सुनवाई में और भी पहलू सामने आ सकते हैं.

बीजेपी नेता डॉ महेश शर्मा ने इंदिरा गांधी पर साधा निशाना !

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नोटबंदी के फैसले को भले ही देश भर ने सराहा हो लेकिन पीएम मोदी की चापलूसी में लीन केन्द्र सरकार के मंत्री अब देश की महान विभूतियो पर भी खुले मंच से निशाना साध रहे है।बता दें की केन्द्र सरकार के संस्कृति एवं पर्यटन विभाग के राज्यमंत्री डॉ महेश शर्मा ने मंगलवार मेरठ के शहीद स्मारक में अखंड भारत का सपना देखने वाली इंदिरा गांधी को कमजोर नेता बताया और उनकी कार्यशैली पर सवाल खड़े किये।

महेश शर्मा ने इंदिरा गांधी पर भी खुले मंच से साधा निशाना

  • पीएम मोदी की चापलूसी में लीन बीजेपी मंत्री अब खुले मंच से देश की महान विभूतियो पर निशाना साध रहे है।
  • बता दें कि बीजेपी नेता और संस्कृति एवं पर्यटन विभाग के राज्यमंत्री डॉ महेश शर्मा ने आज इंदिरा गांधी पर निशान साधा
  • शर्मा ने देश कि पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी को कमज़ोर बताया ।
  • इंदिरा गांधी के वित्तमंत्री रहे यशवंतराव चह्वाण की किताब का संदर्भ लेते हुए खुले मंच से कहा कि इंदिरा गांधी को भी देश में इकठ्ठा हो रहे कालेधन की जानकारी थी।
  • लेकिन चुनाव का बहाना लेकर उन्होने सौ का नोट बंद करने का फैसला नही किया।
  • डॉ महेश शर्मा ने इंदिरा गांधी की कार्यशैली और साहस पर सवाल खड़े करते हुए कहा कि नोटबंदी का फैसला शेरदिल प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने किया है और इसके लिए यूपी के चुनाव की भी परवाह नही की।
  • अखंड भारत का सपना देखने वाली इंदिरा गांधी के बारे में महेश शर्मा यह भूल गये कि देश को परमाणुशक्ति बनाने की बात हो,
  • देश को आतंकवाद से मुक्त कराने का मुद्दा हो,
  • देश में नसबंदी लागू करने की बात हो या फिर पाकिस्तान को युद्ध में धूल चटाकर उसके दो टुकड़े करने की रणनीति हो।
  • ये सभी बड़े काम इंदिरा गांधी ने किये थे।
  • लेकिन मोदी की चापलूसी औऱ बढ़ाई में डॉ महेश शर्मा इतिहास भूल गये।

ये भी पढ़ें :अतीक अहमद के सिर पर मुलायम सिंह का हाथ, बाहुबली की ठसक बढ़ी

रामअचल राजभर ने किया सपा, भाजपा पर प्रहार !

उत्तर प्रदेश के महराजगंज जिले के पनियरा विधानसभा क्षेत्र में रविवार को बसपा के प्रदेश अध्यक्ष रामअचल राजभर ने विशाल जनसभा को सम्बोधित किया। इस जनसभा को संबोधित करते हुए रामअचल राजभर ने सपा और भाजपा पर हमला बोला। राजभर ने कहा कि इन दोनों की सरकारों में प्रदेश में गुण्डाराज चला है। उन्होंने ये भी कहा कि ‘ऐसे में आने वाले 2017 की विधानसभा के चुनाव में आप लोगो को बसपा की सरकार बनाने की जरुरत है।’

पूर्व सभापति गणेश शंकर पाण्डेय के प्रचार के लिए पनियरा पहुंचे थे राजभर

  • बसपा प्रदेश अध्यक्ष रामअचल राजभर ने नोटबंदी के मुद्दे को लेकर प्रधानमंत्री मोदी पर हमला बोला।
  • राजभर ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज पूरे देश के किसानों को कतार में खड़ा कर दिया है और कैशलेस करने की बात कह रहे है।
  • बता दें की बसपा के प्रदेश अध्यक्ष रामअचल राजभर आज विधानपरिषद के पूर्व सभापति गणेश शंकर पाण्डेय के प्रचार के लिए महराजगंज जिले के पनियरा विधानसभा क्षेत्र में आये थे।
  • गौरतलब हो कि उत्तर प्रदेश में होने वाले आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर सपा ,
  • बसपा, भाजपा और कांग्रेस जोर-शोर से चुनावी तैयारियों में जुटी है।
  • बसपा के राष्ट्रीय महासचिव नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने भी आज हरदोई जिले के बालामऊ में रैली को संबोधित किया।
  • जहाँ उन्होंने भी सपा और भाजपा की मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला।

ये भी पढ़ें :सपा-भाजपा पर जमकर बरसे बसपा के राष्ट्रीय महासचिव नसीमुद्दीन!

देश को रोटी देने वाला किसान नोटबंदी के बाद पैसों का मोहताज

नोट बंदी को एक महीने से ज्यादा हो चुका है मध्यम वर्ग पैसों की किल्लत से जूझ रहा है वहीँ किसान वर्ग भी बीज और खाद नहीं खरीद पा रहा है.

बीज और खाद के लिए नहीं है पैसा

  • गेहूं की बुआई का वक़्त है पर बीज  और खाद खरीदने को पैसों की किल्लत आ रही है.
  • दो किसान नरेला मंडी में धान बेचने में असफल रहे क्योकि आढ़ती के पास भी पैसे नहीं थे.
  • नोट बंदी से पहले 2400 रूपये क्विंटल बिक रहा था धान.
  • पर अब लोग दो हज़ार में भी धान खरीदने को तैयार  नहीं हैं.

नरेला मंडी में उत्तर भारत के लगभग सभी किसान जाते हैं

  • देश की सबसे बड़ी मंडियों में से एक है नरेला उसका हाल ये है.
  • देश की बाकी मंडियों का क्या हाल होगा इसका कोई अंदाज़ा नहीं है.
  • प्रधानमंत्री मोदी किसान हित में ढेरो योजनायें ला चुकें है.
  • नोट बंदी के इस दौर में जब गरीब किसान पैसे के लिए मुहताज है.
  • तो मोदी इस स्थिति में क्या फैसला करते हैं ये देखने वाली बात होगी.

सरकारी एलान का भी नहीं हो रहा पालन

  • सरकार ने बोल रखा है की सरकारी दुकानों पर पुराने नोट चलेंगे.
  • फिर भी बीज और खाद खरीदने में किसान वर्ग की बदहाली सामने आ रही है.
  • कई किसान  तो बेहद कम पैसो में अपनी मेहनत से उगाई धान बेच रहे है.
  • प्रशासन की चुप्पी इस मामले में बर्दाश्त के बाहर जा रही है.