एसटीएफ ने 3700 करोड़ के ठगी के मामले में सुनील मित्तल गिरफ्तार!

पिछले दिनों 7 लाख लोगों से 3700 करोड़ की ऑनलाइन ठगी के मामले में आरोपी अनुभव मित्‍तल को गिरफ्तार किया गया था। ईडी ने अनुभव के अलावा उसके दो साथी श्रीधर और महेश दयाल को भी कोर्ट में पेश किया था।

  • अनुभव के बाद अब उसके पिता सुनील मित्तल को यूपी एसटीएफ ने नोएडा से गिरफ्तार करने का दावा किया है।
  • गिरफ्तार किये गए लोगों पर आरोप है कि कंपनी सोशल मीडिया पर लाइक और क्लिक का झांसा देकर लोगों से ठगी करती थी।
  • आरोप यह भी है कि कंपनी एक लाइक के पीछे 5 रुपए देने का वादा करती थी।

दूसरी कंपनियों से 7 रुपये प्रति क्लिक लेने का आरोप

  • ईडी ने नोएडा पॉन्‍जी स्‍कैम में मनी लॉन्ड्रिंग का मामला दर्ज किया है।
  • लगभग 3700 करोड़ के इस घोटाले में अनुभव मित्‍तल और उसकी कंपनियों का नाम शामिल है।
  • अधिकारियों के अनुसार जब कोई व्‍यक्ति कंपनी में 5 हजार से लेकर 57,000 रुपए तक निवेश करता था।
  • अपनी दुकान चलाने के लिए ये कंपनी कहती थी कि वह दूसरी कंपनियों से 7 रुपए प्रति क्लिक लेते हैं और उसमें से 5 रुपए ग्राहकों को देती है।
  • इस मामले की जांच कर रही यूपी एसटीएफ अनुभव मित्तल को पहले ही गि‍रफ्तार कर चुकी है।
  • प्रति लाइक 5 रुपए की दर से भुगतान किया जाता था।
  • कोई व्यक्ति अपने नीचे दो लोगों को जोड़ता था तो 4,000 रुपए का बोनस दिया जाता था।
  • भुगतान पर कंपनी 5 से 13 प्रतिशत का टैक्स भी काटती थी।
  • सोशल ट्रेड से जुड़ते ही उनके खाते में 150 लाइक जोड़ दिए जाते थे।
  • इसके बाद जोड़नेवाला व्यक्ति अपने नीचे दो लोगों को जोड़ता था और इनको भी 57,500 रुपए देने होते थे।
  • पिछले दिनों यूपी एसटीएफ को शिकायत मिली थी कि नोएडा में सोशल ट्रेडिंग के नाम पर एक कंपनी अरबों रुपए का कारोबार कर रही है, लेकिन इस कंपनी ने 7 लाख से ज्‍यादा इन्‍वेस्‍टर्स के साथ धोखाधड़ी की है।
  • इसके बाद शुरू हुई जांच में इस स्‍कैम का खुलासा हुआ।
  • अब्‍लेज इंफो सॉल्‍यूशंस नाम के इस कंपनी ने 3700 करोड़ रुपए का घोटाला कर चुकी है।
  • एसटीएफ इस मामले में गंभीरता से जांच कर रही है।

Exclusive वीडियो में देखिये जमीन के अंदर इस सुरंग में चलेगी अपनी मेट्रो!

आपने लखनऊ मेट्रो को ट्रॉयल रन के दौरान सड़क के ऊपर से तो खूब गुजरते देखा होगा। लेकिन जमीन के अंदर यह गाड़ी कैसे चलेगी यह सवाल दिमाग में खूब उमड़-घुमड़ रहे होंगे। चलिए कोई बात नहीं जमीन के अंदर मेट्रो चलने में अभी काफी वक्त लगेगा लेकिन uttarpradesh.org आप को वीडियो के जरिये दिखा रहा है कि इसी सुरंग में जमीन के नीचे अपनी मेट्रो चलेगी। इसकी सवारी करने के लिए लोग काफी उत्सुक हैं।

देखिये यही है वो सुरंग जिसमे चलेगी मेट्रो:

चलने को तैयार अपनी मेट्रो

  • बता दें कि लखनऊ मेट्रो अब चलने को तैयार है।
  • इसी क्रम में अंडरग्राउंड मेट्रो का भी काम तेजी के साथ चल रहा है।
  • बुधवार को सुबह मेट्रो रेल कार्पोरेशन से जुड़े अधिकारियों संग पत्रकारों ने भी सचिवालय अंडरग्राउंड मेट्रो स्टेशन और सुरंग का भ्रमण कर कार्य प्रणाली की को देखा।
  • अधिकारियों ने जमीन के अंदर कैसे टनल मशीन द्वारा सुरंग की खोदाई और मिटटी बाहर निकाली जाती है इस विषय में विस्तार से बताया।
  • सुरंग में जाते समय मेट्रो कर्मियों ने सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किये थे।
  • बता दें कि लखनऊ मेट्रो अब 90 किमी प्रतिघंटा की रफ्तार से लोडेड और अनलोडेड स्थित में दौड़ेगी।
  • इसके लिए आरडीएसओ (अनुसंधान डिजाइन और मानक संगठन) ने अंततः लखनऊ मेट्रो के दोलन परीक्षण परीक्षण के परिणाम जारी किए हैं।
  • यह लखनऊ मेट्रो को अंतिम स्पीड सर्टिफिकेट मंजूर की गई गति से 10% कम होगा, जो कि भरी हुई और उतार-चढ़ाव दोनों स्थितियों में 80 किमी प्रति घंटा है।
  • लेकिन ढीले निलंबन (जब वायु लीक) की स्थिति में, अधिकतम अनुमोदित गति केवल 60 किमी प्रति घंटा होगी।

आगे और भी बढ़ सकती है स्पीड

  • आरडीएसओ के एक अधिकारी ने कहा, ‘डीफ्लेटेड हालत दुर्लभ है लेकिन अगर ऐसा होता है, तो ट्रेन केवल 60 किलोमीटर प्रति घंटे की अधिकतम गति से आगे बढ़ सकती है।
  • यदि यह आगे बढ़ जाती है, तो यह ट्रेनों को परेशान करने और थकान, आदि।’
  • आरडीएसओ टीम ने ‘अंतिम गति प्रमाणपत्र’ के अनुमोदन के लिए शहरी परिवहन और हाई स्पीड मेट्रो निदेशालय को रिपोर्ट भेजी है।
  • आपातकालीन ब्रेकिंग दूरी रिपोर्ट की जांच के बाद ही प्रमाण पत्र जारी किया जाएगा।
  • बता दें कि लखनऊ मेट्रो के ट्रॉयल ट्रेन रन का शुभारम्भ तत्कालीन मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने किया था।

दोनों मशीनों ने नाम रखे गए गंगा व गोमती

  • इसी के साथ लखनऊ मेेट्रों के फेस 1 ए (उत्तर दक्षिण काॅरिडोर) के 3.5 कि0मी0 लम्बे सचिवालय, हुसैनगंज व हजरतगंज विभाग में भूमिगत टनलिंग का कार्य निर्धारित समय से पूर्व प्रारम्भ हो गया है।
  • यह कार्य अप व डाउन लाइन में एक साथ दो टनलिंग मशिन द्वारा चलेगा।
  • दोनों मशिनों के नाम यूपी की दो मुख्य नदियों गंगा व गोमती के नाम पर रखे गये हैं।

यह भी पढ़ें- LMRC ने TBM मशीन ‘गंगा-गोमती’ से शुरू की भूमिगत टनलिंग!

अंडरग्राउंड मेट्रो स्टेशन और सुरंग का निरीक्षण, मशीनें देखकर भौचक्के रह गए लोग!

लखनऊ मेट्रो अब चलने को तैयार है। इसी क्रम में अंडरग्राउंड मेट्रो का भी काम तेजी के साथ चल रहा है।

  • बुधवार को सुबह मेट्रो रेल कार्पोरेशन से जुड़े अधिकारियों संग पत्रकारों ने भी सचिवालय अंडरग्राउंड मेट्रो स्टेशन और सुरंग का भ्रमण कर कार्य प्रणाली की को देखा।
  • अधिकारियों ने जमीन के अंदर कैसे टनल मशीन द्वारा सुरंग की खोदाई और मिटटी बाहर निकाली जाती है इस विषय में विस्तार से बताया।
  • सुरंग में जाते समय मेट्रो कर्मियों ने सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किये थे।

90 किमी प्रति घंटा की स्पीड से दौड़ेगी अपनी मेट्रो

  • बता दें कि लखनऊ मेट्रो अब 90 किमी प्रतिघंटा की रफ्तार से लोडेड और अनलोडेड स्थित में दौड़ेगी।
  • इसके लिए आरडीएसओ (अनुसंधान डिजाइन और मानक संगठन) ने अंततः लखनऊ मेट्रो के दोलन परीक्षण परीक्षण के परिणाम जारी किए हैं।
  • यह लखनऊ मेट्रो को अंतिम स्पीड सर्टिफिकेट मंजूर की गई गति से 10% कम होगा, जो कि भरी हुई और उतार-चढ़ाव दोनों स्थितियों में 80 किमी प्रति घंटा है।
  • लेकिन ढीले निलंबन (जब वायु लीक) की स्थिति में, अधिकतम अनुमोदित गति केवल 60 किमी प्रति घंटा होगी।

आगे और भी बढ़ सकती है स्पीड

  • आरडीएसओ के एक अधिकारी ने कहा, ‘डीफ्लेटेड हालत दुर्लभ है लेकिन अगर ऐसा होता है, तो ट्रेन केवल 60 किलोमीटर प्रति घंटे की अधिकतम गति से आगे बढ़ सकती है।
  • यदि यह आगे बढ़ जाती है, तो यह ट्रेनों को परेशान करने और थकान, आदि।’
  • आरडीएसओ टीम ने ‘अंतिम गति प्रमाणपत्र’ के अनुमोदन के लिए शहरी परिवहन और हाई स्पीड मेट्रो निदेशालय को रिपोर्ट भेजी है।
  • आपातकालीन ब्रेकिंग दूरी रिपोर्ट की जांच के बाद ही प्रमाण पत्र जारी किया जाएगा।
  • बता दें कि लखनऊ मेट्रो के ट्रॉयल ट्रेन रन का शुभारम्भ तत्कालीन मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने किया था।

दोनों मशीनों ने नाम रखे गए गंगा व गोमती

  • लखनऊ मेेट्रों के फेस 1 ए (उत्तर दक्षिण काॅरिडोर) के 3.5 कि0मी0 लम्बे सचिवालय, हुसैनगंज व हजरतगंज विभाग में भूमिगत टनलिंग का कार्य निर्धारित समय से पूर्व प्रारम्भ हो गया है।
  • यह कार्य अप व डाउन लाइन में एक साथ दो टनलिंग मशिन द्वारा चलेगा।
  • दोनों मशिनों के नाम यूपी की दो मुख्य नदियों गंगा व गोमती के नाम पर रखे गये हैं।

यह भी पढ़ें- LMRC ने TBM मशीन ‘गंगा-गोमती’ से शुरू की भूमिगत टनलिंग!

सीएम की गाजीपुर जनसभाओं में निशाने पर रहे मोदी, भाजपा और बसपा!

1

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव शुक्रवार को गाजीपुर अपने चुनावी दौरे पर पहुंचे।

  • यहां उनका कार्यकर्ताओं ने जोरदार गर्मजोशी के साथ स्वागत किया।
  • अखिलेश ने यहां की जनसभा में बसपा और भाजपा पर करारा प्रहार किया।
  • मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने गाजीपुर जिले में सैदपुर, जखनियां, जहूराबाद में जनसभाओं को संबोधित किया।
  • इसके बाद सीएम जंगीपुर, गाजीपुर सदर जमानियां में चुनावी जनसभा को संबोधित करेंगे।
  • सीएम ने अपने जुबानी तरकस से पीएम मोदी पर खूब हमला किया।
  • उन्होंने जनसभाओं में समाजवादी पार्टी के प्रत्याशियों के पक्ष में मतदान की अपील की।

समाजवादी पार्टी की उपलब्धियां गिनाईं

  • मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने समाजवादी पार्टी की उपलब्धियां गिनाईं वहीं भाजपा को आड़े हाथों लेकर प्रधानमंत्री पर जमकर हमला बोला।
  • उन्होंने कहा कि भाजपा ने आप के इलाके में काम किया हो तो बताओं।
  • उन्होंने कहा कि पीएम कहते हैं कि यूपी में बच्चे नक़ल करके पास होते हैं।
  • सीएम ने कहा कि नक़ल तो थोड़ी बहुत हर कोई करता है।
  • सीएम ने नाम लिए बगैर कहा प्रधानमंत्री तो कपड़े पहनने की नकल करते हैं।
  • अखिलेश ने सवाल पूछते हुए कहा कि पीएम बताएं भाजपा ने कौन सा काम किया है।
  • सीएम ने कहा कि हमने जो काम किया है उसकी गवाह हमारी योजनाएं हैं।
  • अखिलेश ने कहा कि नोटबंदी के बाद लोग लाइन में खड़े थे।
  • लाइन में लगे लगे एक बच्चे का जन्म हो गया।
  • बैंककर्मियों ने उसका नाम खजांची रख दिया।
  • हमने उसके परिवार वालों को ढुंढवाया और दो लाख रुपये की मदद की।
  • अखिलेश ने तंज कसते हुए कहा कि पीएम कल बोलकर गए कि यूपी में रेल की पटरियां आईएसएआई काट रहा है।
  • पता नहीं कौन पीएम को यह सूचना दे देता है।
  • सीएम ने कहा कि नोटबंदी करके पूरे देश को पीएम ने बर्बाद करने का काम किया है।
  • नोटबंदी के बाद बैंकों में कितना पैसा जमा हुआ भाजपा वालों यह तो बताओ।
  • सीएम ने कहा कि भाजपा सिर्फ झूठ बोलती है।
  • हमने आज तक इतना झूठ बोलने वाला प्रधानमंत्री हमने आज तक नहीं देखा।

हमने 100 नंबर सेवा शुरू की

  • उन्होंने कहा काम करने वालों की सरकार बनाओ वादे करने वालों की नहीं।
  • भाजपा सिर्फ जुमलेबाजी करती है और जनता को गुमराह कर चुनाव जीतना चाहती है इसलिए इनके बहकावे में न आना।
  • यूपी का चुनाव देश का भविष्य तय करेगा।
  • सीएम ने कहा कि बीजेपी वालों ने कोई एम्बुलेंस चलाई हो तो बताओ।
  • हमने 100 नंबर सेवा शुरू की और भाजपा कहती है कि यूपी में थाने समाजवादी के कार्यालय बने हुए हैं।
  • अपनी चुनावी जनसभाओं में सीएम ने अपील करते हुए कहा कि सपा की सरकार बनाओ हम यूपी को विकास के रास्ते पर ले जाने का काम करेंगे।
  • उन्होंने कहा कि हमारे प्रधानमंत्री को ये नहीं मालूम की यूपी में 100 नंबर सेवा चल रही या नहीं?
  • आने वाले समय में हम up 100 में 1000 गाड़ियां और बढ़ा देंगे।

पत्थर वाली सरकार के बहकावे में ना आना-सीएम

  • अखिलेश यादव ने बसपा सुप्रीमो पर भी खूब हमला बोला।
  • सीएम ने कहा कि पत्थर वाली सरकार के बहकावे में कतई मत आना।
  • हमारी बुआजी को पता नहीं कौन इतना लंबा भाषण लिखकर देता है कि उसे सुनकर लोग सोने लगते हैं।
  • उन्होंने कहा कि बुआजी ने जो हाथी लगवाये थे वह आज भी एक ही जगह हैं।
  • बसपा ने सिर्फ उत्तर प्रदेश में जनता को छलने का काम किया है।
  • इनके बहकावे में कतई न आना, इनके हाथी वर्षों से जहां के तहां बैठे हुए हैं।
  • अपने संबोधन के दौरान अखिलेश यादव ने कहा कि मैं आपसे निवेदन करने आया हूं कि आप हमारा साथ दें और एक पूर्ण बहुमत की सरकार बनाने का काम करें।
  • आने वाले समय में हम अपनी बेटियों को साईकिल देने का काम करेंगे।
  • गरीब लोगों को 1000 रुपये पेंशन भी देने का हम काम करेंगे।
  • उन्होंने कहा यह कुनबों का गठबंधन नहीं बल्कि दो ऊंची सोच के युवाओं का गठबंधन है।
1

सीएम ने बसों में महिलाओं को आधा किराया देने का वादा कर यासर के पक्ष में मांगे वोट!

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की बुधवार को 3 जिलों में 7 चुनावी रैलियां हैं।

  • इस दौरान उन्होंने विधानसभा क्षेत्र बहराइच एवं मटेरा की संयुक्त सभा में रूआब सइदा तथा यासर शाह के लिए गेंद घर का मैदान में एक जनसभा को संबोधित किया।
  • अपने संबोधन में सीएम ने सपा के पक्ष में वोट देने की अपील की।

देखिये रैली की Exclusive तस्वीरें:

loading ...

सीएम बोले बसपा और भाजपा के बहकावे में न आएं

  • चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए सीएम अखिलेश ने कहा कि बकार ने हमारी मदद की।
  • यासर ने भी हमारी सहायता की है।
  • यासर को को जो विभाग दिया गया उसे इन्होंने बहुत बेहतर तरीके से संभाला।
  • सीएम ने भाजपा पर हमला करते हुए कहा कि बीजेपी को सिर्फ लोगों को बहकना आता है।
  • भजपा के नेता लोगों को गुमराह करते हैं।
  • उन्होंने कार्यकर्ताओं से अपील की है कि वह क्षेत्र में सरकार की योजनाओं के बारे में बताएं।
  • सीएम ने कहा कि कांग्रेस को ज्यादा सीटें देने का आरोप पार्टी पर लग रहा है।
  • उन्होंने कहा कि भाजपा और बसपा के बहकावें में कतई न आएं।
  • हमने ग्राम रोजगार सेवकों की मदद की है।
  • इसलिए ग्राम रोजगार सेवक सरकार बनाने में मदद करें।
  • सीएम ने कहा अगर हमारी सरकार दोबारा सत्ता में आती है तो ग्रामरोजगार सेवकों को नौकरी भी दी जाएगी।
  • सीएम ने कहा कि हमारी सरकार बनने पर बसों में महिलाओं को आधा किराया देना होगा।

अनुभव मित्तल को ED ने लखनऊ कोर्ट में किया पेश!

1

पिछले दिनों 7 लाख लोगों से 3700 करोड़ की ऑनलाइन ठगी के मामले में आरोपी अनुभव मित्‍तल को ईडी ने शनिवार को लखनऊ कोर्ट में पेश किया।

  • ईडी ने अनुभव के अलावा उसके दो साथी श्रीधर और महेश दयाल को भी कोर्ट में पेश किया।
  • आरोप है कि कंपनी सोशल मीडिया पर लाइक और क्लिक का झांसा देकर लोगों से ठगी करती थी।
  • आरोप है कि कंपनी एक लाइक के पीछे 5 रुपए देने का वादा करती थी।

दूसरी कंपनियों से 7 रुपये प्रति क्लिक लेने का आरोप

  • ईडी ने नोएडा पॉन्‍जी स्‍कैम में मनी लॉन्ड्रिंग का मामला दर्ज किया है।
  • लगभग 3700 करोड़ के इस घोटाले में अनुभव मित्‍तल और उसकी कंपनियों का नाम शामिल है।
  • अधिकारियों के अनुसार जब कोई व्‍यक्ति कंपनी में 5 हजार से लेकर 57,000 रुपए तक निवेश करता था।
  • अपनी दुकान चलाने के लिए ये कंपनी कहती थी कि वह दूसरी कंपनियों से 7 रुपए प्रति क्लिक लेते हैं और उसमें से 5 रुपए ग्राहकों को देती है।
  • इस मामले की जांच कर रही यूपी एसटीएफ अनुभव मित्तल को पहले ही गि‍रफ्तार कर चुकी है।
  • प्रति लाइक 5 रुपए की दर से भुगतान किया जाता था।
  • कोई व्यक्ति अपने नीचे दो लोगों को जोड़ता था तो 4,000 रुपए का बोनस दिया जाता था।
  • भुगतान पर कंपनी 5 से 13 प्रतिशत का टैक्स भी काटती थी।
  • सोशल ट्रेड से जुड़ते ही उनके खाते में 150 लाइक जोड़ दिए जाते थे।
  • इसके बाद जोड़नेवाला व्यक्ति अपने नीचे दो लोगों को जोड़ता था और इनको भी 57,500 रुपए देने होते थे।
  • पिछले दिनों यूपी एसटीएफ को शिकायत मिली थी कि नोएडा में सोशल ट्रेडिंग के नाम पर एक कंपनी अरबों रुपए का कारोबार कर रही है,
  • लेकिन इस कंपनी ने 7 लाख से ज्‍यादा इन्‍वेस्‍टर्स के साथ धोखाधड़ी की है।
  • इसके बाद शुरू हुई जांच में इस स्‍कैम का खुलासा हुआ।
  • अब्‍लेज इंफो सॉल्‍यूशंस नाम के इस कंपनी ने 3700 करोड़ रुपए का घोटाला कर चुकी है।
  • एसटीएफ इस मामले में गंभीरता से जांच कर रही है।
1

सीएम अखिलेश यादव पर लगा अनुभव को फंसाने का आरोप!

सोशल ट्रेड ऑनलाइन घोटाले में 3,700 करोड़ रुपए के गबन के आरोप में घिरे अनुभव मित्तल के समर्थकों ने यूपी की समाजवादी सरकार पर गंभीर आरोप लगाए हैं।

डिम्पल यादव का फेसबुक पोस्ट वायरल

  • यूपी के सीएम अखिलेश यादव पर अनुभव मित्तल को फंसाने का आरोप लगा है।
  • इस मामले में अखिलेश की पत्नी डिम्पल यादव का एक फेसबुक पोस्ट भी सोशल ट्रेड से जुड़े लोगों की बीच वायरल हो रहा है।
  • इस पोस्ट के जरिये अनुभव मित्तल को बेकसूर कहा जा रहा है।
  • इस मामले में जयपुर के पचासों सोशल ट्रेड मेंबर ने अनुभव की गिरफ्तारी के पीछे अखिलेश का हाथ बताकर हड़कंप मचा दिया है।

साल भर पुराना है फेसबुक पोस्ट

  • हालाकि 16 फरवरी 2016 को वायरल हुए इस फेसबुक पोस्ट में डिम्पल यादव ने प्रदेश सरकार की तरफ से इस पोस्ट में इंटरनेट पर बिजनेस ग्रोथ के लिए एक कार्यक्रम का जिक्र किया है।
  • अनुभव के समर्थक डिम्पल और सपा सरकार के इसको सोशल ट्रेड के खिलाफ साजिश का हिस्सा बता रहे हैं।
  • समर्थकों का आरोप है कि बिजनेस प्रमोशन के क्षेत्र में अनुभव मित्तल को रास्ते से हटाने के लिए अखिलेश ने यह साजिश रची है।

एसटीएफ ने की थी गिरफ्तारी

  • बता दें कि पिछले दिनों यूपी एसटीएफ ने इन्फो सॉल्यूशंस प्राइवेट लिमिटेड से जुड़े करीब 3,700 करोड़ रुपए के घोटाले का पर्दाफाश कर अनुभव मित्तल को गिरफ्तार किया था।
  • अनुभव पर सोशल ट्रेड के जरिए सोशल मीडिया पर लाइक के जरिए पैसा कमाने का लालच देकर पैसे हड़पने का आरोप लगा था।
  • अनुभव को उनके समर्थक अभी भी बेकसूर मानते हैं।
  • समर्थकों ने पिछले समय में दिल्ली के जंतर-मंतर पर इकठ्ठा होकर प्रदर्शन किया था।
  • उनके समर्थकों का कहना है कि अनुभव की इन्फो सॉल्यूशंस प्राइवेट लिमिटेड कंपनी ने करीब 12 लाख लोगों को रोजगार दिया है।
  • कोई भी सरकार ऐसा अभी तक नहीं कर सकी है, कंपनी ने आयकर भी नियम कानून के अनुसार पिछले साल 91 करोड़ रुपये भरा है।
  • फिलहाल चुनावी मौसम में समर्थकों के इस आरोप से यूपी सरकार और सपा सरकार में हड़कंप मच गया है।

सपा के साथ अब कांग्रेस है और साइकिल तेजी से चलेगी- अखिलेश यादव

उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव के पहले चरण के चुनाव के तहत अखिलेश यादव शनिवार 4 फरवरी को सूबे के औरैया क्षेत्र के दौरे पर थे। जहाँ अखिलेश यादव ने एक चुनावी जनसभा को संबोधित किया। गौरतलब है कि, यूपी चुनाव का पहला चरण 11 फरवरी से शुरू हो रहा है।

औरैया के मंडी समिति मैदान में अखिलेश यादव का संबोधन:

  • अखिलेश यादव जनसभा के संबोधन के लिए औरैया के मंडी समिति मैदान में पहुंचे थे।
  • जहाँ अखिलेश यादव ने एक चुनावी जनसभा का संबोधन किया।
  • अपने संबोधन में अखिलेश यादव ने कहा कि, गरीबों और किसानों की मदद करने का काम समाजवादी लोग करेंगे।
  • उन्होंने आगे कहा कि, विकलांगों के लिए अलग से सुविधाएँ दी जाएँगी।
  • आने वाली योजनाओं के बारे में अखिलेश ने कहा कि, आने वाले समय में एक लीटर घी भी देगी समाजवादी सरकार।
  • साथ ही उन्होंने कहा कि, समाजवादी पेंशन का लाभ 1 करोड़ महिलाओं को दिया जायेगा।

हर गरीब महिला को पेंशन:

  • जनसभा में अखिलेश यादव ने आगे कहा कि, हर गरीब महिला को सपा सरकार पेंशन देगी।
  • उन्होंने आगे कहा कि, सरकारी स्कूलों में पढ़ाई अच्छी होगी।
  • अखिलेश यादव ने आगे कहा कि, समाजवादियों ने लैपटॉप बांटने का काम किया।
  • उन्होंने आगे कहा कि, समाजवादी लोगों के साथ अब कांग्रेस है और साइकिल तेजी से चलेगी।

अखिलेश ने खोला राज, ‘ये बातें’ नेताजी ने ही सिखाई हैं!

1

औरैया: बीते कुछ दिनों से अखिलेश यादव पहले चरण के चुनाव के लिए जबरदस्त प्रचार प्रसार में लगे हैं. ऐसे में आज औरैया में एक जनसभा को संबोधित करते हुए अखिलेश के कुछ ऐसी बात कही जिसने सबका ध्यान केंद्रित किया। आम तौर पर पारिवारिक विवाद पर बोलने से बचने वाले अखिलेश यादव ने आज चुप्पी तोड़ी।

जानिये क्या बोले अखिलेश यादव:

राजनीति के सभी दाव नेताजी से ही सीखे हैं

  • एक समय तो लगा साइकिल छोटी जाएगी, पर जो नेताजी से सीखा वही किया
  • अखिलेश यादव अमर सिंह और शिवपाल यादव के खिलाफ निशाना साधते हुए ऐसा बोले
  • उन्होंने कहा कि विरोधियों को कैसे चित्त करना है ये मैंने नेताजी से ही सीखा है
  • षणयंत्र की वजह से वो दिन कैसे काटे हम ही जानते हैं
  • आखिर में हमने वही दाव खेला जो नेताजी से सीखा था, और साइकिल बचा ली

अखिलेश यादव के संबोधन के मुख्य अंश:

  • समस्याओं का समाधान सपा की नीतियों से होगा।
  • कम समय में यूपी में बहुत विकास किया।
  • किसानों की अर्थव्यवस्था ठीक करने का काम करेंगे।
  • भर्ती के लिए पारदर्शी व्यवस्था लागू करेंगे।
  • सरकार बनी तो 1 लाख पुलिस की भर्तियाँ करेंगे।
  • आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे पर हवाई जहाज भी उतर सकता है
  • सरकार बनी तो एक लाख पुलिसकर्मियों की भर्ती करेंगे
  • सपा सरकार ने जनता के हितों के लिए बहुत सी योजनाओं को अमल में लाने का काम किया
  • बीजेपी नफरत फ़ैलाने का काम करती है

1