इंडिया ओपन: क्वार्टर फाइनल में पीवी सिंधु ने दी साइना नेहवाल को मात!

1

इंडियन ओपन बैडमिंटन सुपर सीरीज में भारत को दो दिग्गज और स्टार प्लेयर साइना नेहवाल और पीवी सिंधु आमने-सामने थी। मुकाबला बेहद मुश्किल था। दोनों अनुभवी खिलाड़ियों ने एक-दूसरे को कांटें की टक्कर दी लेकिन अंत में जीत सिंधु के हाथ लगी।

सिंधु ने साइना को हराया-

हार बार जीतना चाहती है साइना-

  • जीत के बाद सिंधु ने बताया कि उन्होंने आत्मविश्वास के कारण साइना पर जीत हासिल की।
  • उन्होंने कहा कि वो अपने हार प्रतिस्पर्धी के खिलाफ 100 प्रतिशत देती है।
  • सिंधु ने कहा, ’मैं केवल साइना के खिलाफ ही नहीं बल्कि हर बार जीतना चाहती हूं।’
  • आगे उन्होंने कहा कि सिंधु-साइना की बीच की प्रतिस्पर्धा कोई प्रतिस्पर्धा नहीं है।
  • उन्होंने बताया कि जब दोनों खिलाड़ी कोर्ट में होते है तो मुकाबला होता है, लेकिन कोर्ट के बाहर दोनों स्टार खिलाड़ी अच्छे दोस्त है।

यह भी पढ़ें: लखनऊ में होने वाले राष्ट्रीय हॉकी चैम्पियनशिप की तारीख़ आगे बढ़ी!

यह भी पढ़ें: प्रो-कबड्डी लीग के पांचवें संस्करण में 8 की जगह 12 टीमें लेंगी हिस्सा!

1

ज्वाला गुट्टा ने की बैडमिंटन अकादमी लांच करने की घोषणा

भारत की स्टार बैडमिंटन प्लेयर ज्वाला गुट्टा ने हैदराबाद में अपनी बैडमिंटन अकादमी लांच करने की घोषणा की है। ज्वाला गुट्टा ने युवा प्रतिभा को निखारने के लिए इस अकादमी को लांच करने की घोषणा की। इस अकादमी को वेलनेस लैब्स एएलपी के साथ मिलकर बनाया गया है।

‘खेल को गंभीरता से लेना शुरू कर दिया’-

  • स्टार खिलाड़ी ज्वाला गुट्टा ने कहा कि अब युवा खिलाड़ी करियर विकल्प में बैडमिंटन को गंभीरता से ले रहे है।
  • उन्होंने बताया कि यह अकादमी युवा प्रतिभा की खोजेगी, उसे निखारेगी और ट्रेनिंग मुहैया कराएगी।
  • इस अकादमी में एक भारतीय और एक अंतर्राष्ट्रीय कोच होगा।
  • अकादमी में अंतर्राष्ट्रीय स्तर की बैडमिंटन सुविधाएं दी जाएंगी।
  • इसके साथ ही खिलाड़ियों को वैश्विक टूर्नामेंट में प्रतिस्पर्धा की बेहतर तैयारी दी जाएगी।
  • ज्वाला गुट्टा अपनी इस अकादमी का विस्तार मुंबई, कोलकाता, दिल्ली और बेंगलुरू में करेगी।
  • इसमें कुल निवेश करीब 20 करोड़ होगा।
  • इसके अलावा अकादमी अच्छे खिलाड़ियों को विदेशी कार्यक्रम में भी भेजेगी।
  • अकादमी स्कूलों के परिसर में ही केंद्र खोलने के लिए स्कूलों से साझेदारी करेगी।
  • जमीनी स्तर पर स्थानीय स्कूलों में प्रतिभा खोजने में ध्यान लगाएगी।

यह भी पढ़ें: किंग्स इलेवन पंजाब की कमान अब इस ऑस्ट्रेलिया खिलाड़ी के नाम

यह भी पढ़ें: ऑस्ट्रेलियाई अखबार ने भारतीय कप्तान विराट और कोच कुंबले पर लगाये गंभीर आरोप

ऑल इंग्लैंड चैंपियनशिप: सायना-सिंधु क्वार्टर फाइनल में, प्रनॉय हुए बाहर

ऑल इंग्लैंड चैंपियनशिप में भारत की ओलंपिक रजत विजेता पीवी सिंधु और स्टार बैडमिंटन प्लेयर सायना नेहवाल ने अपने-अपने मुकाबलों में अपना विजयी अभियान जारी रखते हुए क्वार्टर फाइनल में अपनी जगह बना ली है. लेकिन पुरुष एकल में भारत का प्रतिनिधित्व कर रहे एचएस प्रनॉय इस टूर्नामेंट से बाहर हो गए है.

सिंधु और सायना क्वार्टर फाइनल में-

  • भारत का प्रतिनिधित्व कर रही सायना नेहवाल और पीवी सिंधु ने इस प्रतियोगिता के क्वार्टर फाइनल में अपनी जगह पक्की कर ली है.
  • सिंधु ने इंडोनेशिया की दिनार दियाह को दूसरे दौर में मात दी.
  • 30 मिनट के खेल में सिंधु ने अपनी प्रतिद्वंदी खिलाड़ी दिनार को 21-12, 21-4 से मुकाबले में परास्त किया.
  • जबकि सायना ने दूसरे दौर में जर्मनी की फेबियेने देपरेज को हराया.
  • सायना ने फेबियेने देपरेज को 21-18, 21-10 से शिकस्त दी.

प्रनॉय हुए बाहर-

  • पुरुष एकल में भारत का प्रतिनिधित्व कर रहे एचएस प्रनॉय को दूसरे मुकाबले में हार का मुहँ देखना पड़ा.
  • एचएस प्रनॉय को सातवीं वरीयता प्राप्त चीन के तियान होवेई से हार मिली.
  • प्रनॉय को तियान होवेई ने 21-13, 21-5 से मात दी.

यह भी पढ़ें: साइना, सिंधु और प्रणय ने ऑल इंग्लैंड बैडमिंटन चैंपियनशिप में किया विजयी आगाज़

यह भी पढ़ें: विराट कोहली और रविचंद्रन अश्विन को बीसीसीआई ने किया सम्मानित

डीयू विवाद: गुरमेहर कौर के समर्थन में उतरी ओलंपियन ज्वाला गुट्टा

डीयू की छात्र गुरमेहर कौर के सोशल मीडिया पोस्ट के कारण पूरे देश देशद्रोह-देशप्रेम के दो हिस्सों में बटा नज़र आ रहा है. देश में चल रहे इस दंगल में भारत के बड़े बड़े नेता, राजनेता, अभिनेता आदि की बहस जारी है. इस मामले में देश के खिलाड़ियों ने भी अपनी-अपनी राय दी है. वीरेंदर सहवाग से लेकर बबिता फोगाट बयानबाजी करने से पीछे नहीं हटे. अब इस मामले में बैडमिंटन जगत की मशहूर प्लेयर ज्वाला गुट्टा भी आ गई है.

गुरमेहर का किया समर्थन-

  • बैडमिंटन डबल स्पेशलिस्ट ज्वाला गुट्टा ने गुरमेहर कौर का समर्थन किया है.
  • उन्होंने सोशल मीडिया के ज़रिएं इस मामले पर अपनी बात रखी है.
  • ज्वाला गुट्टा ने गुरमेहर का विरोध पर दुःख जताया है.
  • उन्होंने कहा, ‘दुःख की बात है कि अगर कोई शांति से बात करना चाहता है तो लोग उसे पाकिस्तानी कहते हैं.’
  • ज्वाला गुट्टा ने वीरेंदर सहवाग पर भी निशाना साधा.
  • आगे उन्होंने कहा, ‘कुछ खिलाड़ी पूरा सच जाने बिना ही गुरमेहर की आलोचना कर रहे हैं.’
  • ज्वाला ने कहा, ‘खिलाड़ी शांति के दूत है इसलिए हम जैसे खिलाड़ियों को ऐसे विषयों पर बोलना आवश्यक है.’

यह भी पढ़ें: भारतीय क्रिकेटरों ने महान अंपायर जॉन हैम्पशायर के निधन पर जताया दुख!

यह भी पढ़ें: डीयू विवाद: भारतीय खिलाड़ी अब कर रहे अभिव्यक्ति की आज़ादी का समर्थन

ऑल इंग्लैंड चैंपियनशिप को कोई विशेष महत्व नहीं देना चाहती सिंधू

सात से 12 मार्च तक होने वाले प्रतिष्ठित बैंडमिंटन टूर्नामेंट ऑल इंग्लैंड चैंपियनशिप को लेकर पीवी सिंधू ने कहा कि वो इस टूर्नामेंट को कोई विशेष महत्व नहीं देना चाहती है। 2015 में साइना नेहवाल इस खिताब के काफी करीब पहुंची थी लेकिन फाइनल में उन्हें हार का सामना करना पड़ा।

सिंधु की नजर नतीजों पर-

  • पीवी सिंधू ने कहा, ‘ऑल इंग्लैंड एक बड़ा टूर्नामेंट है।’
  • उन्होंने आगे कहा, ‘एक खिलाड़ी होने के नाते मैं उन्हीं खिलाडि़यों के खिलाफ खेलूंगी जिनके खिलाफ अन्य सुपर सीरीज टूर्नामेंटों में खेलती हूं।’
  • सिंधू ने बताया, ‘मैं अच्छी तैयारी कर रही हूं, मेरे लिए टूर्नामेंट का प्रत्येक मैच समान रूप से महत्वपूर्ण है।’
  • बता दें कि अभी तक केवल दो ही भारतीय है जिन्होंने यह टूर्नामेंट अपने नाम किया है।
  • यह खिताब प्रकाश पादुकोण और भारत के मुख्य कोच पुलेला गोपीचंद ने ही अपने नाम किया है।
  • इस समय पीवी सिंधू अपने कॅरियर की सर्वश्रेष्ठ पांचवीं रैंकिंग पर है।
  • साल के अंत तक सिंधू की नजरें शीर्ष तीन खिलाड़ियों में शामिल होने पर टिकी है।
  • उन्होंने कहा, ‘पिछले साल सत्र की शुरूआत में मुझे उम्मीद थी कि मैं अपनी रैंकिंग में सुधार कर लूंगी।’
  • सिंधू कहा, ‘मैं इस साल के अंत तक दुनिया की तीसरी खिलाड़ी बनने के लिए कड़ी मेहनत कर रहीं हूं।
  • मालूम हो कि यह टूर्नामेंट बर्मिंघम में खेला जाएगा।
  • इस टूर्नामेंट को जीतने वाले खिलाड़ी को छह लाख डॉलर (लगभग चार करोड़ रुपये) इनाम मिलेगा।

इन दिग्गज महिला खिलाड़ियों की खूबसूरती देखकर आप हो जाएंगे इनके फैन!

1

भारतीय महिलाओं ने अपनी क्षमता के बल पर अपनी काबिलियत का लोहा मनवाया है. खेल की दुनिया में भी भारतीय महिलाएं किसी भी देश की महिलाओं से पीछे नहीं है. जितनी काबिल ये खिलाड़ी अपने खेल में है उतनी ही काबिल-ए-तारीफ है इनकी खूबसूरती. आइये हम आपको भारत की कुछ दिग्गज महिला खिलाड़ियों से मिलवातें है जिनकी ख़ूबसूरती देखकर आप हैरान हो जाएंगे.

प्राची तेहलान (नेटबॉल)-

prachi

  • प्राची तेहलान भारत की नेटबॉल और बास्केटबॉल खिलाड़ी हैं.
  • वो भारतीय नेटबॉल टीम की पूर्व कप्तान हैं.

प्रतिमा सिंह (बास्केटबॉल)-

Pratima-Singh

  • नेशनल बास्केटबॉल टीम का हिस्सा प्रतिमा सिंह ने 2003 में बास्केटबॉल खेलना शुरू किया था.
  • बीते वर्ष दिसंबर में उन्होंने क्रिकेटर इशांत शर्मा से शादी कर ली.

तानिया सचदेव (चेस)-

tania

  • तानिया सचदेव भारत की चेस प्लेयर और कमेंटेटर है.
  • चेस की क्वीन की तरह उनका अंदाज़ सामने वाले को चेक एंड मेट कर सकता है.

शर्मिला निकोलेट (गोल्फ)-

Sharmila

  • शर्मिला निकोलेट एक इंडो-फ्रेंच पेशेवर गोल्फ खिलाड़ी है.
  • बेंगलुरु की रहने वाली शर्मीला का अंदाज़ देखेत ही बनता है.

अलीशा अब्दुल्लाह (रेसिंग ड्राईवर)-

alisha

  •  अलीशा अब्दुल्लाह भारत की एक रेसिंग ड्राइवर हैं.
  • वह भारत की पहली महिला राष्ट्रीय रेसिंग चैंपियन भी हैं.

दीपिका पल्लिकल (स्क्वैश)-

dipika

  • दीपिका पल्लीकल कार्तिक एक भारतीय स्क्वैश खिलाड़ी है।
  • वह पहली भारतीय हैं जिन्होंने पीएसए महिला रैंकिंग में शीर्ष 10 में जगह बनाई थी.

अश्विनी पोनप्पा (बैडमिंटन)-

Ashwini Ponnappa

  • इंटरनेशनल स्तर पर भारत को प्रस्तुत करने वाली अश्विनी पोनप्पा महिला एकल और मिश्रित युगल की शानदार खिलाड़ी हैं.
  • ज्वाला गुट्टा के साथ इनकी जोड़ी ने खूब धमाल मचाया है.

ज्वाला गुट्टा (बैडमिंटन)-

Jwala

  • बाएं हाथ के भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी ज्वाला गुट्टा देश के सबसे सफल युगल विशेषज्ञ है.
  • ज्वाला ने राष्ट्रीय बैडमिंटन चैंपियनशिप चौदह बार जीती है।

साइना नेहवाल (बैडमिंटन)-

saina

  • साइना नेहवाल भारत से एक पेशेवर बैडमिंटन एकल खिलाड़ी है।
  • नेहवाल ने 2009 के बाद से वह बीस से अधिक अंतरराष्ट्रीय खिताब है, जिसमे दस सुपर खिताब शामिल जीता है।

सानिया मिर्ज़ा (टेनिस)-

sania

  • सानिया मिर्जा एक भारतीय पेशेवर टेनिस खिलाड़ी है.
  • स्टार प्लेयर सानिया भारत की सबसे अधिक वेतन पाने वाली हाई प्रोफाइल एथलीट हैं.

1

अपने करियर की सर्वश्रेष्ठ रैंकिंग पर पहुंची पीवी सिंधु

भारत की बैडमिंटन प्लेयर पीवी सिंधु बीडब्ल्यूएफ विश्व रैंकिंग में अपने करियर की सर्वश्रेष्ठ रैंकिंग पर पहुंच गई है। ताजा जारी की गई रैंकिंग के अनुसार सिंधु विश्व रैंकिंग में पांचवें स्थान पर पहुंच गई है। इसके अलावा भारत की स्टार प्लेयर साइना नेहवाल अपने नौवें स्थान पर बनी हुई हैं।

विश्व रैंकिंग में पांचवें स्थान पर साइना-

  • पीवी सिंधु के खाते में 69399 अंक हैं।
  • ताजा जारी की गई रैंकिंग में सिंधु ने एक स्थान का सुधार किया।
  • अब सिंधु अपने करियर के सर्वश्रेष्ठ रैंकिंग पर पहुंच गई।
  • 2017 की शुरुआत सिंधु ने छठे स्थान से की थी।
  • परंतु 26 जनवरी को वो नौवें स्थान पर खिसक गई थी।
  • लेकिन उसके बाद फिर वो छठे स्थान पर लौटी।
  • और अब पीवी सिंधु अपने करियर की सर्वश्रेष्ठ रैंकिंग यानि नंबर पांच पर पहुंच गई है।
  • इसके अलावा विश्व रैंकिंग में भारतीय महिला बैंडमिंटन प्लेयर साइना भी शीर्ष दस में स्थान बरकरार रखें हुए हैं।
  • साइना इसे रैंकिंग में नौवें स्थान पर है।
  • पुरुष एकल में अजय जयराम 18वें स्थान पर है।
  • श्रीकांत 21वें और एचएस प्रणय 23वें स्थान पर है।

यह भी पढ़ें: उसैन बोल्ट ने चौथी बार जीता खेलों का ऑस्कर, बने स्पोर्ट्समैन ऑफ़ द इयर

यह भी पढ़ें: डीआरएस से अंपायर 98.5 फीसदी सही फैसला लेने में कामयाब: डेविड रिचर्डसन

सैयद मोदी अंतर्राष्ट्रीय टूर्नामेंट में शामिल नहीं होंगी साइना नेहवाल

बैडमिंटन स्टार प्लेयर साइना नेहवाल ने सैयद मोदी अंतर्राष्ट्रीय टूर्नामेंट में नहीं खेलने का फैसला किया है. इससे इस टूर्नामेंट की चमक थोड़ी कम हो गई है. बता दें कि सैयद मोदी अंतर्राष्ट्रीय टूर्नामेंट 24 जनवरी से शुरू हो रहा है.

साइना ने जीता मलेशिया टूर्नामेंट-

  • मालूम हो कि साइना ने नेहवाल ने बीते दिन मलेशिया मास्टर्स ग्रां प्री बैडमिंटन टूर्नामेंट का खिताब अपने नाम किया.
  • साइना ने सैयद मोदी अंतर्राष्ट्रीय टूर्नामेंट की तीन बार की विजेता रहीं हैं.
  • लेकिन उन्होंने इस साल इस टूर्नामेंट में नहीं खेलने का फैसला किया है.
  • साइना ने कहा, ‘मलेशिया ओपन जीतने के दौरान मेरे लिए तीन हफ्ते काफी थकाऊ रहे.’
  • आगे उन्होंने बताया कि उनका घुटना अभी शत-प्रतिशत मज़बूत नहीं हुआ है.
  • उन्होंने बताया कि उन्हें शारीरिक रूप से पूरी तरह फिट होने में कुछ और समय लगेगा.
  • उन्होंने कहा, ‘मैं खुश हूँ कि मैंने पिछले तीन हफ़्तों में कुछ अच्छा खेल दिखाया लेकिन शीर्ष स्तर के खिलाड़ियों को हराने के लिए मुझे अपना सर्वश्रेष्ठ देना होगा.’
  • आगे उन्होंने बताया कि उन्हें अपनी सर्वश्रेष्ठ फिटनेस हासिल करने के लिए थोड़े और समय की ज़रूरत है.

यह भी पढ़ें: तस्वीरें: टी-20 मैच के लिए लखनऊ हवाई अड्डे पहुंची भारत-इंग्लैंड टीम

यह भी पढ़ें: टी-20 में अश्विन और जड़ेजा को आराम, टीम में अमित और परवेज को मिली जगह

 

पीबीएल: हैदराबाद हंटर्स ने दिल्ली एसर्स को हराकर सेमीफाइनल में बनाई जगह

कैरोलिना मारिन के शानदार प्रदर्शन के दम पर हैदराबाद हंटर्स ने दिल्ली एसर्स को हराकर प्रीमियर बैडमिंटन लीग के सेमीफाइनल में जगह बना ली। हैदराबाद हंटर्स ने दिल्ली एसर्स को 5-2 से मात देकर पीबीएल के सेमीफाइनल में अपनी जगह बनाई।

मारिन ने ट्रंप मैच जीतकर टीम को पहुँचाया सेमीफाइनल में-

  • पहले मैच हैदराबाद के समीर वर्मा और दिल्ली के सरिल वर्मा को बीच हुआ।
  • इस मैच में समीर ने सरिल को 8-11, 11-3, 11-2 से शिकस्त दी।
  • दूसरा मैच हैदराबाद के सात्विक साईराज और चाऊ होई वाह तथा एसर्स के व्लादीमिर इवानोव और ज्वाला गुट्टा की जोड़ी के बीच हुआ।
  • इस मैच में हैदराबाद की जोड़ी ने दिल्ली की जोड़ी को 11-3, 11-4 से मात दी।
  • तीसरा मैच दिल्ली के लिए ट्रंप मैच था।
  • इस मैच में दिल्ली के जॉन ओ जोर्गेंसन ने हैदराबाद के जोसेफ ओसेफको 11-5, 11-7 से हराया।
  • इसके साथ ही दोनों टीमें 2-2 के स्कोर से बराबरी पर आ गई।
  • अगला ट्रंप मैच मारिन ने जीतकर स्कोर 4-2 से हैदराबाद के पक्ष में कर दिया।
  • अंतिम मैच में हैदराबाद के बून हियोंग तान और वी किओंग तान की जोड़ी ने दिल्ली के व्लादीमिर और इवान सोजोनोव की जोड़ी पर जीत दर्ज की।
  • इस प्रकार हैदरबाद ने दिल्ली को 5-2 से मात दी।

यह भी पढ़ें: सरिता देवी बनीं भारत की पहली पेशेवर महिला मुक्केबाज़

यह भी पढ़ें: आज भी टीम के दिशा-निर्देशक हैं धोनी: कुंबले