अमित शाह ने महात्मा गांधी को क्यों बताया ‘चतुर बनिया’!

बीजेपी राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने कांग्रेस पर वार करते हुए कहा कि कांग्रेस की न ही कोई विचारधार है और न ही कोई नीति है। अमित शाह ने महात्मा गांधी पर बड़ा बयान देते हुए कहा कि वो दूरदर्शी होने के साथ ही चतुर बनिया थे।

अमित शाह ने महात्मा गांधी को कहा ‘चतुर बनिया-

  • बीजेपी राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने तीन दिवसीय छत्तीसगढ़ के दौरे पर है।
  • रायपुर दौरे के दौरान अमित शह ने महात्मा गांधी को लेकर बड़ा बयान दिया।
  • उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी दूरदर्शी होने के साथ-साथ बहुत चतुर बनिया थे।
  • शाह ने कहा कि महात्मा गांधी को पता था कि आगे क्या होने वाला है।
  • अमित शाह यहीं नहीं रुके।
  • उन्होंने कहा कि गांधी जी ने कहा था कि कांग्रेस को बिखेर देना चाहिए।
  • उन्होंने बताया कि आजादी के बाद महात्मा गांधी ने कांग्रेस को खत्म करने की सलाह दी थी।

भाजपा में आंतरिक लोकतंत्र-

  • इस दौरान अमित शाह ने बीजेपी को सिद्धांतों पर आधारित पार्टी कहा।
  • उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी में आंतरिक लोकतंत्र है।
  • अमित शाह ने कहा कि पार्टी का अहम मुद्दों पर नजरिया साफ़ है।
  • आगे उन्होंने कहा कि भाजपा शासित राज्य तेज़ी से विकास कर रहे है।

यह भी पढ़ें: आधार से PAN लिंकिंग फैसले पर सुप्रीम कोर्ट ने लगाई रोक!

यह भी पढ़ें: आतंकवाद के खिलाफ मिली नई ताकत, SCO का पूर्ण सदस्य बना भारत!

बुकलेट में POK को भारत का हिस्सा बताकर फंसी यूपी कांग्रेस!

भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस उत्तर प्रदेश ने शनिवार 3 जून को सूबे की राजधानी लखनऊ स्थित पार्टी मुख्यालय में प्रेस कांफ्रेंस(Congress booklet) का आयोजन किया था। प्रेस कांफ्रेंस का संबोधन यूपी कांग्रेस प्रभारी गुलाम नबी आजाद ने किया था। प्रेस कांफ्रेंस का आयोजन मोदी सरकार के तीन साल के कार्यकाल पर हमला बोलने के लिए किया गया था। लेकिन इस दौरान कांग्रेस से एक बहुत बड़ी गलती हो गयी है।

मोदी सरकार के खिलाफ जारी बुकलेट(Congress booklet) में POK को बताया भारत का हिस्सा:

  • कांग्रेस पार्टी ने लखनऊ में प्रेस कांफ्रेंस कर मोदी सरकार के तीन साल के कार्यकाल पर निशाना साधा था।
  • प्रेस कांफ्रेंस के बाद यूपी कांग्रेस अपनी ही प्रेस कांफ्रेंस को लेकर फंस गयी है।
  • मोदी सरकार के खिलाफ कांग्रेस यूपी प्रभारी गुलाम नबी आजाद ने एक बुकलेट(Congress booklet) जारी की थी।

Congress booklet

  • यह बुकलेट राष्ट्रीय सुरक्षा को लेकर जारी की गयी थी।
  • वहीँ कांग्रेस ने जारी बुकलेट में POK को भारत का हिस्सा बताया है।
  • बुकलेट के पेज नंबर. 12 पर इंडियन ऑक्यूपाइड कश्मीर नाम का मैप भी छापा गया है।
  • यह बुकलेट यूपी कांग्रेस प्रभारी गुलाम नबी आजाद ने जारी की थी।

Congress booklet

कांग्रेस की प्रेस कांफ्रेंस(Congress booklet):

  • 3 साल में NDA की सरकार में 172 आतंकी हमले हुए हैं।
  • पठानकोट हमले में 28 लोग मारे गए।
  • ऐसे अटैक कई जगह हुए जिसमें हमारे कई जवान शहीद हो गए।
  • 250 मीटर सरहद में घुसकर पाकिस्तानी हमारे सैनिक का सर काट ले गए, क्या कर दिया प्रधानमंत्री ने।
  • पीएम बोलते थे कि, विदेश मंत्री जो चीन गए तो वहां पर लाल आँखें करके बात करनी चाहिए थी।
  • चाइना के प्रेसिडेंट नवम्बर में भारत आये थे और मोदी उन्हें झूला-झुला रहे थे।
  • दूसरी तरफ चाइना के 2000 सैनिक लद्दाख में डेरा जमाये हुए थे।
  • ये हमारे बारे में क्या कहते थे और आज क्या कर रहे हैं ये जनता देख सकती है।
  • हमें कांग्रेस के सभी प्रधानमंत्रियों पर गर्व है।
  • सेना के पास जो भी आधुनिक हथियार हैं वो कांग्रेस की देन है।

ये भी पढ़ें: CM योगी के दौरे के दूसरे दिन के कार्यक्रम, मिनट-टू-मिनट जानकारी!

3 साल में NDA की सरकार में 172 आतंकी हमले हुए- गुलाम नबी आजाद!

भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी उत्तर प्रदेश ने शनिवार 3 जून को सूबे की राजधानी लखनऊ स्थित पार्टी मुख्यालय में प्रेस कांफ्रेंस(Congress press conference) का आयोजन किया था। जिसके तहत यूपी कांग्रेस प्रभारी गुलाम नबी आजाद ने प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित किया। इस दौरान यूपी कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर भी प्रेस कांफ्रेंस में मौजूद थे। गौरतलब है कि, अभी हाल ही में कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने मोदी सरकार के तीन साल के कार्यकाल पर हमला बोलने के लिए प्रेस कांफ्रेंस का आयोजन किया था।

कांग्रेस यूपी प्रभारी गुलाम नबी आजाद के संबोधन के मुख्य अंश(Congress press conference):

NDA सरकार में 172 आतंकी हमले(Congress press conference):

  • 3 साल में NDA की सरकार में 172 आतंकी हमले हुए हैं।
  • पठानकोट हमले में 28 लोग मारे गए।
  • ऐसे अटैक कई जगह हुए जिसमें हमारे कई जवान शहीद हो गए।
  • 250 मीटर सरहद में घुसकर पाकिस्तानी हमारे सैनिक का सर काट ले गए, क्या कर दिया प्रधानमंत्री ने।
  • पीएम बोलते थे कि, विदेश मंत्री जो चीन गए तो वहां पर लाल आँखें करके बात करनी चाहिए थी।
  • चाइना के प्रेसिडेंट नवम्बर में भारत आये थे और मोदी उन्हें झूला-झुला रहे थे।
  • दूसरी तरफ चाइना के 2000 सैनिक लद्दाख में डेरा जमाये हुए थे।
  • ये हमारे बारे में क्या कहते थे और आज क्या कर रहे हैं ये जनता देख सकती है।
  • हमें कांग्रेस के सभी प्रधानमंत्रियों पर गर्व है।
  • सेना के पास जो भी आधुनिक हथियार हैं वो कांग्रेस की देन है।

ये भी पढ़ें: NDA सरकार की कोई पॉलिसी नहीं है- गुलाम नबी आजाद

ये भी पढ़ें: जगह-जगह जा कर NDA सरकार की सच्चाई को बता रहे हैं- गुलाम नबी आजाद

NDA सरकार की कोई पॉलिसी नहीं है- गुलाम नबी आजाद

भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी उत्तर प्रदेश ने शनिवार 3 जून को सूबे की राजधानी लखनऊ स्थित पार्टी मुख्यालय में प्रेस कांफ्रेंस(Congress press conference) का आयोजन किया था। जिसके तहत यूपी कांग्रेस प्रभारी गुलाम नबी आजाद ने प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित किया। इस दौरान यूपी कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर भी प्रेस कांफ्रेंस में मौजूद थे। गौरतलब है कि, अभी हाल ही में कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने मोदी सरकार के तीन साल के कार्यकाल पर हमला बोलने के लिए प्रेस कांफ्रेंस का आयोजन किया था।

देश की सुरक्षा मुद्दा(Congress press conference):

  • कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने शनिवार को लखनऊ प्रेस कांफ्रेंस(Congress press conference) को संबोधित किया।
  • उन्होंने कहा कि, मोदी सरकार को बेनकाब करने के लिए आज हमारे पास जो मुद्दा है वो देश की सुरक्षा।
  • 2014 में उन्हें 80 फ़ीसदी मिले थे।
  • सबसे ज्यादा देश की सुरक्षा की बात पर मिले थे।
  • चाहे कोई पढ़ा लिखा हो या न हो किसी भी जात का क्यों न हो सब साथ देते हैं।

पीएम मोदी पर हमला(Congress press conference):

  • गुलाम नबी आजाद ने आगे प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी पर हमला किया।
  • उन्होंने कहा कि, प्रधानमंत्री मोदी ने कहा था कि, हमारे नौजवानों के सर काट दिए जाते हैं।
  • दूसरी तरफ उनके मंत्री पाकिस्तानियों को जयपुर बिरयानी खिला रहे थे।
  • पूछने पर प्रधानमंत्री बोले की ये तो प्रोटोकॉल है।
  • पीएम से पूछना चाहता हूँ कि, पाकिस्तान में ये आम साड़ियाँ और शाल भेजने का काम किसने शूरः किया?
  • आप पाकिस्तान में शादी-ब्याह में भी प्रोटोकॉल तोड़कर चले जाते हैं।
  • NDA सरकार की कोई पॉलिसी नहीं है।

ये भी पढ़ें: जगह-जगह जा कर NDA सरकार की सच्चाई को बता रहे हैं- गुलाम नबी आजाद

जगह-जगह जा कर NDA सरकार की सच्चाई को बता रहे हैं- गुलाम नबी आजाद

भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी उत्तर प्रदेश ने शनिवार 3 जून को सूबे की राजधानी लखनऊ स्थित पार्टी मुख्यालय में प्रेस कांफ्रेंस(Congress press conference) का आयोजन किया था। जिसके तहत यूपी कांग्रेस प्रभारी गुलाम नबी आजाद ने प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित किया। इस दौरान यूपी कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर भी प्रेस कांफ्रेंस में मौजूद थे। गौरतलब है कि, अभी हाल ही में कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने मोदी सरकार के तीन साल के कार्यकाल पर हमला बोलने के लिए प्रेस कांफ्रेंस का आयोजन किया था।

जगह-जगह NDA सरकार की सच्चाई को बता रहे हैं(Congress press conference):

  • शनिवार को यूपी कांग्रेस ने लखनऊ में प्रेस कांफ्रेंस(Congress press conference) का आयोजन किया था।
  • प्रेस कांफ्रेंस का संबोधन यूपी कांग्रेस प्रभारी गुलाम नबी आजाद ने किया।
  • अपने संबोधन में आजाद ने कहा कि, हम जगह-जगह जा कर NDA सरकार की सच्चाई को बता रहे हैं।
  • उनहोंने आगे कहा कि, हम NDA सरकार की नाकामी गिना रहे हैं।
  • प्रेस कांफ्रेंस में आगे कांग्रेस नेता ने मोदी सरकार पर बड़ा आरोप लगाया।
  • उन्होंने कहा कि, मोदी सरकार देश द्वारा जनता को लगातार गुमराह किया जा रहा है।
  • कांग्रेस नेता ने आगे जोड़ा कि, मीडिया के माध्यम से ये बरगला रहे हैं।

जनता को बेवकूफ बनाया जा रहा है:

  • कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने आगे कहा कि, जनता को बेवकूफ बनाया जा रहा है।
  • उन्होंने आगे कहा कि, ये जो तमाम उद्घाटन हुए हैं, इनकी शुरुआत UPA सरकार में हुई थी।
  • इसी में उन्होंने आगे जोड़ा कि, लेकिन इनकी वाह-वाही मोदी सरकार लूट रही है।

ये भी पढ़ें: जेवर कांड में पीड़ितों को दी गई आर्थिक सहायता!

यूपी कांग्रेस की 12 बजे प्रेस कांफ्रेंस, गुलाम नबी करेंगे संबोधित!

भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी ने शनिवार 3 जून को उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में प्रेस कांफ्रेंस(congress press conference) का आयोजन किया है। कांग्रेस की प्रेस कांफ्रेंस दोपहर 12 बजे से पार्टी मुख्यालय में आयोजित की गयी है। इस दौरान भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस यूपी के सभी पदाधिकारी मौजूद रहेंगे।

यूपी प्रभारी गुलाम नबी आजाद करेंगे प्रेस कांफ्रेंस(congress press conference):

  • कांग्रेस ने शनिवार को यूपी की राजधानी लखनऊ में प्रेस कांफ्रेंस(congress press conference) का आयोजन किया है।
  • पार्टी की प्रेस कांफ्रेंस दोपहर 12 बजे से पार्टी मुख्यालय में शुरू होगी।
  • प्रेस कांफ्रेंस में यूपी कांग्रेस के सभी पदाधिकारी मौजूद रहेंगे।
  • कांग्रेस की ओर से प्रेस कांफ्रेंस की अध्यक्षता यूपी प्रभारी गुलाम नबी आजाद करेंगे।
  • साथ ही कांफ्रेंस में यूपी कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर भी मौजूद रहेंगे।
  • प्रेस कांफ्रेंस में गुलाम नबी आजाद यूपी के मौजूदा हालातों पर योगी सरकार को घेर सकते हैं।

केंद्र सरकार के 3 साल पूरे होने पर की गयी थी प्रेस कांफ्रेंस(congress press conference):

  • कांग्रेस ने राजधानी लखनऊ में शनिवार को प्रेस कांफ्रेंस(congress press conference) का आयोजन किया है।
  • यूपी कांग्रेस ने केंद्र सरकार के तीन साल पूरे होने के बाद राजधानी लखनऊ में प्रेस कांफ्रेंस का आयोजन किया था।
  • प्रेस कांफ्रेंस के माध्यम से कांग्रेस ने केंद्र सरकार पर हमला बोला था।
  • साथ ही कांग्रेस ने कांफ्रेंस में मोदी सरकार को किसान विरोधी सरकार भी बताया था।

ये भी पढ़ें: विश्व पर्यावरण दिवस 2017: सीएम योगी ‘एप’ और ‘टोल फ्री नंबर’ करेंगे लांच!

देश में जो कोई भी शक्तिशाली नहीं है वह डरता है-राहुल गाँधी

उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में हुई जातीय हिंसा की वजह से वहां की स्थिति अभी भी तनाव पूर्ण है. ऐसे में जिला प्रशासन से अनुमति न मिलने के बावजूद कांग्रेस के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राहुल गाँधी शनिवार 27 मई को सहारनपुर के दौरे के पहुंचे. इस दौरान राहुल गाँधी ने कहा कि प्रदेश में कानून व्यवस्था कायम करने में सरकार विफल रही है.

ये भी पढ़ें :राहुल गाँधी को यूपी की सीमा में प्रवेश नहीं मिलेगा- सहारनपुर DM

सहारनपुर में राहुल गाँधी ने दिया ये बयान-

  • कांग्रेस के राष्ट्रीय उपाध्यक राहुल गाँधी आज सहारनपुर स्थित सरसावा पहुंचे.
  • जहाँ उन्होंने अपने बयान में कहा ‘देश में जो कोई भी शक्तिशाली नहीं है वह डरता है और यह एक देश चलाने का तरीका नहीं है.’
  • आज के हिन्दुस्तान में गरीब, कमज़ोर के लिये जगह नही है.
  • दलितों को दबाया जा रहा है, ये पूरे हिस्दुस्तान में हो रहा है.
  • जम्मू कश्मीर जल रहा है, हम शान्ति लाये थे जम्मू कश्मीर में.
  • उन्होंने पीएम मोदी पर आरोप लगते हुए कहा कि ‘जो देशद्रोही शक्तियां हैं उनको मोदी जी जम्मू कश्मीर में फुटहोल्ड दे रहे हैं.’

ये भी पढ़ें :राहुल गाँधी को यूपी की सीमा में प्रवेश नहीं मिलेगा- सहारनपुर DM

  • उन्होंने आगे कहा जब जम्मू कश्मीर में शान्ति होती है हिंदुस्तान को फ़ायदा होता है.
  • हिंसा होती है तो पाकिस्तान को फ़ायदा होता है, ये काम मोदी जी करा रहे हैं.
  • राहुल गाँधी ने कहा कि सहारनपुर जाना चाहता था, मुझे जाने नही दिया गया.
  • दरअसल वो मुझे यूपी बोर्डर पर रोके थे, मैं उठ कर यहाँ आ गया.
  • उन्होंने कहा मुझे एडमिनिस्ट्रेशन ने कहा है इस लिए मैं वापस जा रहा हूँ.
  • जैसे ही यहाँ समस्या ठीक होगी, मुझे गाँव में ले जायेंगे.

सरसावा में राहुल गाँधी ने लगायी पंचायत:

  • राहुल गाँधी शनिवार को सहारनपुर दौरे के चलते जिले में पहुंचे थे.
  • जहाँ उन्होंने हिंसा में पीड़ित लोगों से मुलाकात की, जिसके बाद प्रशासन ने राहुल गाँधी को आगे जाने से रोक दिया.
  • रोके जाने के बाद राहुल गाँधी ने सरसावा में पंचायत लगायी.

पैदल पहुंचे राहुल गाँधी:

  • कांग्रेस के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राहुल गाँधी शनिवार को सहारनपुर के दौरे पर थे.
  • जिसके तहत राहुल गाँधी सहारनपुर की यूपी-हरियाणा बॉर्डर पर पहुंचे थे.
  • जहाँ पुलिस द्वारा उनके काफिले को रोका गया था.
  • लेकिन राहुल गाँधी ने प्रशासन को धता बताते हुए सहारनपुर की सीमा में प्रवेश किया.
  • राहुल गाँधी सहारनपुर पैदल पहुंचे.
  • उनके साथ यूपी कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर और गुलाम नबी आजाद भी मौजूद हैं.
  • इसके साथ ही राहुल गाँधी में प्रेस कांफ्रेंस को भी संबोधित किया.

ये भी पढ़ें :सहारनपुर बॉर्डर पहुंचे राहुल गाँधी, पुलिस ने काफिला रोका!

राहुल गाँधी को यूपी की सीमा में प्रवेश नहीं मिलेगा- सहारनपुर DM

भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राहुल गाँधी शनिवार 27 मई को सहारनपुर के दौरे के लिए निकले हुए हैं, राहुल गाँधी सहारनपुर के ताजा हालातों और बीते समय से चल रही हिंसा के सन्दर्भ में क्षेत्र का दौरा कर रहे हैं।

यूपी-हरियाणा बॉर्डर सील की गयी:

  • राहुल गाँधी के सहारनपुर दौरे को रोकने के लिए यूपी पुलिस ने कमर कस ली है।
  • जिसके तहत यूपी-हरियाणा बॉर्डर को सील कर दिया गया है।
  • गौरतलब है कि, राहुल गाँधी हरियाणा के रास्ते यूपी पहुँच रहे हैं।

ADG LO बोले कार्रवाई की जाएगी:

  • सहारनपुर डीएम के बाद सूबे के ADG LO आदित्य मिश्रा ने भी राहुल गाँधी के दौरे को रोकने की बात कही है।
  • उन्होंने कहा कि, राहुल गाँधी को समझाया जायेगा,
  • इसी में उन्होंने आगे जोड़ा कि, अगर राहुल गाँधी नहीं मानें तो उनपर कार्रवाई की जाएगी।

सहारनपुर डीएम बोले राहुल गाँधी को घुसने नहीं देंगे:

  • कांग्रेस राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राहुल गाँधी शनिवार को सहारनपुर के दौरे के चलते अपनी दिल्ली आवास से निकल चुके हैं।
  • गौरतलब है कि, राहुल गाँधी बीते कई समय से सहारनपुर में हो रही हिंसा के तहत जिले के दौरे पर आ रहे हैं।
  • वहीँ सहारनपुर के जिलाधिकारी ने राहुल गाँधी को जिले में न घुसने देने की बात कही है।
  • सहारनपुर डीएम ने कहा है कि, राहुल गाँधी को यूपी की सीमा में प्रवेश नहीं दिया जायेगा।
  • साथ ही जिलाधिकारी ने कहा है कि, प्रशासन की ओर से राहुल गाँधी को अनुमति नहीं दी गयी है।

मायावती ने भी किया था दौरा, हुई थी हिंसा:

  • राहुल गाँधी से पहले बसपा सुप्रीमो मायावती ने भी सहारनपुर का दौरा किया था।
  • मायावती के दौरे से पहले और दौरे के बाद सहारनपुर फिर से सुलग गया था।
  • जिसके बाद प्रशासन ने किसी भी अप्रिय घटना से बचने के लिए राहुल गाँधी को इजाजत नहीं दी थी।

यूपी चुनाव परिणाम मायावती के राजनीतिक भविष्य पर लगा रहा है ‘सवालिया निशान’!

उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव के नतीजे सामने आ चुके हैं, जिसके तहत यूपी की जनता ने भारतीय जनता पार्टी को प्रचंड बहुमत दे दिया है। साथ ही सूबे की समाजवादी पार्टी को मात्र 54 सीटें मिली हैं। इसके साथ ही यूपी चुनाव में सबसे ख़राब प्रदर्शन बहुजन समाज पार्टी का रहा, पार्टी को सिर्फ 19 सीटों से संतोष करना पड़ा।

2012 से भी कम रहा आंकड़ा:

  • यूपी चुनाव की शुरुआत से ही बसपा सुप्रीमो मायावती बसपा के बहुमत में आने की बात कह रही थीं।
  • वहीँ कई राजनीतिक पंडितों का भी मानना था कि, बसपा अपने दलित-मुस्लिम-ब्राह्मण समीकरण के सहारे सरकार बनाने की दावेदार है।
  • ज्ञात हो कि, 2002 में सत्ता से बुरी तरह बाहर होने के बाद बसपा सुप्रीमो मायावती ने इसी समीकरण के सहारे सत्ता पायी थी।
  • वहीँ बात 2012 की करें तो बसपा को सपा के बहुमत के बावजूद करीब 80 सीटें मिली थीं।
  • इसके साथ ही 2017 के चुनाव में बसपा सुप्रीमो का प्रदर्शन 2012 से भी ख़राब रहा।
  • इस विधानसभा चुनाव में बसपा को मात्र 19 सीटें मिली हैं।

समीकरण में लगा गलत फार्मूला:

  • बसपा इस विधानसभा चुनाव में 2007 के समीकरण के साथ जीत दर्ज करना चाहती थी।
  • लेकिन लगता है बसपा के समीकरण में कहीं कोई फार्मूला गलत लग गया।
  • जिसके बाद बहुमत का सपना मात्र 19 सीटों पर आकर सिमट गया।
  • बसपा सुप्रीमो मायावती इस बार के चुनाव में 2007 की तर्ज पर दलित-मुस्लिम-ब्राह्मण के समीकरण के साथ आई थीं।
  • लेकिन यह समीकरण बुरी तरह फ्लॉप रहा।
  • बसपा ने यूपी चुनाव के लिए करीब 100 के आस-पास मुस्लिम प्रत्याशियों को टिकट दिया था।
  • पार्टी ने मुस्लिम मतदाताओं को आकर्षित करने के लिए ऐसा किया था।
  • लेकिन मायावती के इस पैंतरे को भी बुरी तरह मुंह की खानी पड़ी।
  • बसपा सुप्रीमो मायावती ने सभी सीटों पर समीकरणों को देखते हुए उनसे सम्बंधित नेताओं की जनसभाएं करायी थी।
  • जिसका कुछ ख़ास फायदा भी बसपा को नहीं हुआ।

बसपा को करने होंगे बदलाव:

  • यूपी चुनाव में बसपा को करारी हार का सामना करना पड़ा है।
  • जिसका काफी हद तक श्रेय बसपा के पुराने हो चुके जातीय समीकरणों को भी जाता हैं।
  • एक ओर जहाँ सभी दल मौजूदा समय में जमीन के साथ-साथ सोशल मीडिया पर भी एक्टिव रहती हैं।
  • लेकिन सोशल मीडिया पर बसपा की सक्रियता लगभग न के बराबर है।
  • इसके साथ ही जनता से सीधे जुड़ने वाले संवाद भी बसपा के नेताओं के लिखे-लिखाये और रटे-रटाये होते हैं।
  • जिनसे आज-कल के युवाओं को आकर्षित कर पाना मुश्किल काम है।
  • वहीँ यूपी चुनाव के परिणामों को देखने के बाद ये कहा जा सकता है कि, बसपा को अपनी चुनावी रणनीति के पुराने तरीकों को बदल लेना चाहिए।