केंद्र ने 35 आईएएस अधिकारियों को दी नई तैनाती!

1

भारतीय प्रशासनिक सेवा के 35 आईएएस (Central government) अधिकारियों को केंद्र सरकार ने नई तैनाती की है। इनमें अपर सचिव, ज्वाइंट सचिव लेवल के अफसर शामिल हैं। नई तैनातियों में यूपी कैडर के अफसर भी शामिल किये गए हैं।

बाजार में 66 कंपनियां बेच रहीं नकली दवाएं!

  • इनमें यूपी के सुनील कुमार ज्वाइंट सचिव कॉमर्स बनाए गए हैं।
  • लीना नंदन रोड ट्रांसपोर्ट विभाग में ज्वाइंट सचिव बनीं हैं।
  • वहीं जिवेश नंदन रक्षा मंत्रालय में ज्वाइंट सचिव बनाए गए हैं।
  • अगली अपडेट के लिए पढ़ते रहें uttarpradesh.org

झोलाछाप और डिग्रीधारी डॉक्टर ने दी बच्चे को मौत!

1

SC में केंद्र सरकार ने कहा कि हम गोरक्षकों के नाम पर हिंसा के खिलाफ है!

सुप्रीम कोर्ट ने गोरक्षकों के नाम पर हो रही हिंसा मामले में सुनवाई की। इस दौरान केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट से कहा है कि सरकार हिंसा के खिलाफ है।

यह भी पढ़ें… राजस्थान: गौ-तस्करी के आरोप में गोरक्षकों ने की पिटाई, एक की मौत!

केंद्र सरकार ने किया हिंसा का खंडन:

  • सरकार ने सुप्रीम कोर्ट से कहा कि हम इस तरह की किसी भी हिंसा का खंडन करते हैं।
  • आगे कहा कि संसद में भी सरकार ये कह चुकी है कि केंद्र सरकार का इसमें कोई रोल नहीं है।
  • सरकार ने कहा अलग-अलग राज्यों में गोरक्षा के नाम पर हो रही हिंसा को रोकना राज्य सरकारों की जिम्मेदारी है।
  • आगे सरकार ने कहा कि राज्य सरकारों की जिम्मेदारी है कि वो राज्य में कानून-व्यवस्था कायम रखें।

यह भी पढ़ें… केंद्र ने किया साफ, भीड़ हिंसा पर नहीं बनेगा अलग कानून!

6 सितंबर को होगी अगली सुनवाई :

  • आपको बता दें की पिछली सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने गोरक्षा को लेकर राज्य सरकारों को नोटिस जारी किया था।
  • जिसके बाद गुजरात, झारखंड, और कर्नाटक ने जवाब दाखिल किया है।
  • गुजरात ने जवाब में कहा है कि हिंसा करने वालों के खिलाफ सख्त एक्शन लिया गया है।
  • बाकी राज्य सरकारों को जवाब देने के लिए सुप्रीम कोर्ट ने चार हफ्ते का वक्त दिया है।
  • सुप्रीम कोर्ट ने निचली अदालतों से गोरक्षा के नाम पर हिंसा के मामलों में हलफनामा दाखिल करने के लिए कहा।
  • इस मामले की अगली सुनवाई 6 सितंबर को होगी।

यह भी पढ़ें… ओवैसी पेश करेंगे भीड़ हिंसा पर निजी सदस्यीय विधेयक!

चीन से विवाद के बीच जारी है 73 सड़कों का निर्माण!

चीन से विवाद के बीच सीमा पर 73 सड़कों का निर्माण कार्य जारी है। केंद्र सरकार ने मंगलवार को लोकसभा मेंलिखित जवाब में यह कहा है। सरकार ने कहा कि भारत-चीन सीमा पर 73 सड़कों में से 30 सड़कों का निर्माण कार्य पूरी कर लिया गया है।

यह भी पढ़ें… भारत चीन विवाद : विदेश मंत्री ने बुलाई सर्वदलीय बैठक!

गृह मंत्रालय मे दी बड़ी जानकारी :

  • केंद्र सरकार ने मंगलवार को लोकसभा में दिए लिखित जवाब में बड़ी जानकारी दी है।
  • कहा कि भारत-चीन सीमा पर रक्षा जरुरतों के लिहाज से 73 सड़कों का निर्माण कार्य आरंभ करने का फैसला हुआ है।
  • इन 73 सड़कों में से रक्षा मंत्रालय के मार्फत 46 सड़कें और गृह मंत्रालय की ओर से 27 सड़कों का निर्माण हो रहा है।

यह भी पढ़ें… भारत के नये परमाणु मिसाइल से खाक में मिल जाएगा चीन!

30 सड़कों का निर्माण कार्य हुआ पूरा :

  • सीमा पर बन रही 73 सड़कों में से 30 सड़कों का निर्माण कार्य पूरी कर लिया गया है।
  • यह परियोजना वर्ष 2012-13 तक पूरी होनी थी।
  • लेकिन इस पूरे इलाके की ऊंचाई, पहाड़ और इस पूरे इलाके में तापमान माइनस में होने की वजह से इस पूरी परियोजना में देरी हुई है।
  • इसको लेकर अब केंद्र सरकार तेजी ला रही है।
  • केन्द्र सरकार सड़क परियोजना में तेजी लाने के लिए कई उपाय भी कर रही है।

यह भी पढ़ें… सैन्य गतिरोध का समाधान करें भारत: चीन

निर्माण कार्य की नियमित समीक्षा :

  • परियोजना को जल्द से जल्द पूरा करने के लिए 20 मई 2017 को गंगटोक में एक बैठक हुई।
  • भारत- चीन सीमा स्थित सीमावर्ती राज्यों के मुख्यमंत्रियों और स्टेक होल्डरों के साथ सीमा पर निर्माण संबंधी परियोजनाओं की प्रगति की की समीक्षा बैठक की गई है।
  • इसके अलावा केंद्रीय गृह सचिव की अध्यक्षता में एक उच्चस्तरीय अधिकार प्राप्त समिति बनाई गई।
  • जो भारत चीन सीमा के निर्माण कार्य की नियमित समीक्षा कर रही है।

यह भी पढ़ें… चीन ने भारत की समुद्री सीमा पर तैनात की अपनी पनडुब्बी!

 

श्रीकांत शर्मा: देश की शान्ति व्यवस्था न बिगाड़ें मायावती!

1

उत्तर प्रदेश विधानसभा के संसद में चल रहे मानसून सत्र (monsoon session) में आज विपक्ष ने केंद्र सरकार को घेरा. इस दौरान बसपा सुप्रीमो मायावती ने सदन में सहारनपुर हिंसा का मामला उठाया. उन्होंने कहा कि सदन में उनकी आवाज को दबाने की कोशिश की जा रही है. उन्हें बोलने नही दिया जा रहा है. जिसक बाद उन्होंने इस्तीफा देने कि बात कही. बसपा सुप्रीमो की इस बात पर ऊर्जा राज्य मंत्री श्रीकांत शर्मा ने हमला बोलते हुए कहा कि देश की शान्ति व्यवस्था न बिगाड़ें मायावती. उन्होंने ये भी कहा कि प्रदेश की जनता ने उन्हें सिरे से नकारा दिया है.

ये भी पढ़ें: GST और बकाये के चलते बंद हुई सरकारी अस्पताल में दवा की सप्लाई!

23 जुलाई के अभियान में मिलेंगे BPL परिवारों को बिजली कनेक्शन-

ये भी पढ़ें: कानपुर: पानी मिला कर बिक रहा पेट्रोल, पब्लिक ने जमकर कटा हंगामा!

  • श्रीकांत शर्मा ने आज कहा कि 23 जुलाई को अभियान के दौरान BPL परिवारों को बिजली कनेक्शन मिलेंगे.
  • उन्होंने आगे कहा कि 20 जुलाई से विभागों के बजट पेश किये जायेंगे.

ये भी पढ़ें: 7 फेरे लेने वाले पति ने पत्नी को जहर देकर दी खौफनाक मौत!

  • जिसमें 20-28 जुलाई तक विभागवार ये बजट पेश किये जायेंगे.
  • श्रीकांत शर्मा ने ये भी कहा कि आय व्यय और अनुदानों मांगों पर विचार करते हुए वोटिंग की जाएगी.

ये भी पढ़ें: कानपुर: टेम्पो पलटने से एक मासूम की मौत, 12 लोग घायल!

  • उन्होंने ये भी कहा कि पहले दिन कृषि, उद्योग और लोक निर्माण का बजट पेश किया जाएगा.
  • इसके बाद वित्त, सार्वजानिक उद्यम , खेल एवं व्यासायिक शिक्षा का बजट पेश किया जायेगा.

ये भी पढ़ें: लखनऊ चिड़ियाघर में शेरनी की मौत!

  • बजट के दूसरे दिन यानी 21 जुलाई को खाद्य रसद , कारागार , खनिजों और खानों का बजट पेश किया जाएगा.
  • इसके बाद परिवहन , श्रम एवं सेवायोजन तथा ऊर्जा का बजट पेश किया जायेगा.

ये भी पढ़ें: अनोखा मंदिर जहां देवताओं के बीच मौजूद है अंग्रेज अधिकारी की मूर्ति!

1

शिक्षा संस्थान को सफाई के आधार मिलेगी ‘स्वच्छता रैंकिंग’!

देशभर के सभी कॉलेज और विश्वविद्यालयों को जल्द ही स्वच्छता रैंकिग मिलेगी। केंद्र सरकार ने स्वच्छ भारत अभियान के तहत सभी उच्च शिक्षा संस्थानों को ‘स्वच्छता’ रैकिंग में शामिल होने को कहा है, जिसमें संस्थानों के आकलन के साथ उनके परिसरों में शौचालयों तथा कूड़ा निष्पादन तंत्र की उपलब्धता के आधार पर किया जाएगा।

यह भी पढ़ें… जल्द सड़कों पर नजर आयेगी दो पहिया टैक्सी!

सोमवार को प्रकाशित हुआ नोटिस :

  • कॉलेज और विश्वविद्यालयों की स्वच्छता रैंकिंग के संबंध में एक नोटिस प्रकाशित किया गया है।
  • यह नोटिस मानव संसाधन विकास मंत्रालय की वेबसाइट पर सोमवार को प्रकाशित किया गया।
  • नोटिस में कहा गया है कि प्रविष्टियां 20 तथा 31 जुलाई के बीच स्वीकार की जाएंगी।
  • संस्थान मंत्रालय की वेबसाइट पर पंजीकरण कर इसमें हिस्सा ले सकते हैं।
  • मंत्रालय का एक दल संस्थान के दावों को परखने के लिए अगस्त में उनके परिसरों का दौैरा करेगा और रैंकिंग प्रदान करेगा।

यह भी पढ़ें… 11 साल की हुई ट्विटर की चिड़िया!

इन तथ्यों के आधार पर दी जाएगी रैंकिंग :

  • जिन तथ्यों के आधार पर रैंकिंग दी जाएगी, वो ये रही-
  • हॉस्टल तथा अकादमी इमारत में शौचालयों की उपलब्धता।
  • उनका रख-रखाव व पानी की उपलब्धता।
  • परिसर में कूड़ा निष्पादन।
  • ठोस व द्रव्य अपशिष्ट प्रबंधन के लिए किसी नवाचार प्रौद्योगिकी का इस्तेमाल तथा परिसर की हरियाली शामिल है।
  • रैंकिंग को सितंबर महीने में अंतिम रूप दे दिया जाएगा और शीर्ष संस्थानों को पुरस्कार आठ सितंबर को दिए जाएंगे।

यह भी पढ़ें… शशिकला के कारनामों का पदार्फाश करने वाली अधिकारी का तबादला!

एकीकरण से घटेगी सरकारी बैंकों की संख्या!

वैश्विक स्तर के 3-4 बड़ें बैंक तैयार करने के लिए केंद्र सरकार तेजी से एकीकरण के एजेंडे पर काम कर रही है। इसमें बड़ी बात यह है कि अब सरकारी बैंको की संख्या घटाकर करीब 12 कर दी जाएगी।

यह भी पढ़ें… फर्जी बैंक गारंटी मामले में आरपी इंफ्रावेंचर पर कसेगा शिकंजा!

घटेगी सरकारी बैंकों की संख्या :

  • एक सरकारी अधिकारी ने इस संबंध में जानकारी दी है।
  • अधिकारी ने बताया कि मध्यम अवधि में 21 सरकारी बैंकों को कंसॉलिडेट करके 10-12 बैंक बनाए जाएंगे।
  • कहा कि थ्री-टियर ढांचे के हिस्से के तहत स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) के साइज के 3-4 बड़े बैंक होंगे।

चल रहा है एकीकरण का काम :

  • अधिकारी के अनुसार पंजाब एंड सिंध बैंक और आंध्रा बैंक जैसे कुछ क्षेत्र-केंद्रित बैंक स्वतंत्र इकाईयों के रूप में काम करते रहेंगे।
  • इसके अलावा, कुछ मझोले आकार के बैंकों को भी वजूद सिस्टम में बना रहेगा।
  • बता दें कि पिछले महीने वित्त मंत्री अरुण जेटली ने इस संबंध में जानकारी दी थी।
  • कहा था कि केंद्र सरकार पब्लिक सेक्टर के बैंकों के कंसॉलिडेशन पर सक्रियता के साथ काम कर रही है।
  • हालांकि उन्होंने यह कहते हुए इसका ब्योरा देने से इनकार कर दिया था कि यह एक प्राइस-सेंसिटिव इंफॉर्मेशन है।
  • SBI के मर्जर से उत्साहित फाइनेंस मिनिस्ट्री इस फाइनेंशियल ईयर में ऐसे दूसरे प्रस्तावों को मंजूरी देने पर विचार कर रही है।

यह भी पढ़ें… सीएम के निर्देशों को दरकिनार कर बैंक भेज रहे किसानों को नोटिस!

होगा बड़े बैंकों का अधिग्रहण :

  • RBI के पूर्व गवर्नर सी रंगराजन के मुताबिक, सिस्टम में कुछ बड़े बैंक, कुछ छोटे बैंक और कुछ लोकल बैंक रहेंगे।
  • एक दूसरे ऑफिसर ने बताया कि
  • पंजाब नेशनल बैंक (PNB),
  • बैंक ऑफ बड़ौदा,
  • केनरा बैंक और
  • बैंक ऑफ इंडिया जैसे बड़े बैंक अधिग्रहण के लिए संभावित बैंकों की तलाश कर सकते हैं।
  • कंसॉलिडेशन की पिछली कवायद के तहत पांच एसोसिएट बैंक और भारतीय महिला बैंक 1 अप्रैल 2017 को SBI का हिस्सा बने थे।

यह भी पढ़ें… स्विस बैंक में घटकर आधी हुई भारतीयों की जमा रकम!

यूपी विधानसभा में विस्फोटक मिलने के बाद संसद में बढ़ाई गई सुरक्षा!

उत्तर प्रदेश विधानसभा में विस्फोटक मिलने के बाद केंद्र सरकार सतर्क हो गई है। संसद की सुरक्षा व्यवस्था का कड़ी कर दी गई है। लोकसभा और राज्यसभा के बाहर सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

संसद में बढ़ी सुरक्षा-

  • यूपी विधानसभा में विस्फोटक मिलने के बाद केंद्र सरकार सतर्क हो गई है।
  • संसद में जांच के लिए टीम पहुंची है।
  • टीम के साथ मेटल डिटेक्टर और खोजी कुत्ते के साथ-साथ वो सभी उपकरण है जिनसे किसी भी प्रकार के खतरों को खोजा जा सकता है।
  • सोमवार से मानसून सत्र आरंभ हो रहा है।
  • सत्र के शुरु होने से पहले यह जांच की जा रही है।
  • लोकसभा और राज्यसभा के बाहर सुरक्षा कड़ी कर दी गई है।
  • यूपी में विस्फोटक मिलने के बाद सुरक्षा जांच को सख्ती से किया जा रहा है।

विधानसभा में टेबल के नीचे मिला था विस्फोटक-

  • गुरुवार को यूपी विधानसभा में अब तक की सबसे बड़ी चूक सामने आई है।
  • जिसके बाद मामले में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को बैठक का आयोजन किया है।
  • 12 जुलाई को मानसून सत्र के दौरान नेता विपक्ष रामगोविंद चौधरी की टेबल के नीचे विस्फोटक मिला था।
  • फॉरेंसिक जांच में PETN विस्फोटक की पुष्टि की गयी है।
  • गौरतलब है कि, PETN पदार्थ का प्रयोग आतंकियों द्वारा ट्रेन में धमाके के लिए किया गया था।
  • ज्ञात हो कि, चेकिंग के दौरान डॉग स्क्वाड भी विस्फोटक को सूंघ नहीं सका था।

विधानसभा की सुरक्षा में बड़ी चूक का मामला-

  • यूपी विधानसभा में सपा विधायक की टेबल के नीचे विस्फोटक मिलने के बाद हर कोई सकते में हैं।
  • वहीँ विधानसभा की सुरक्षा में सेंध का यह सबसे बड़ा मामला है।
  • मामले में पुलिस की लापरवाही उजागर हो गयी है।
  • जिसके बाद सबसे बड़ा सवाल यह उठता है कि, इतनी भारी सुरक्षा के बीच विस्फोटक पदार्थ विधानसभा में पहुंचा कैसे?

कैसे पहुंचा होगा विस्फोटक:

  • विधानसभा के गेट पर सुरक्षाकर्मी तैनात रहते हैं.
  • मेटल डिटेक्टर के साथ सुरक्षाकर्मी खड़े रहते हैं.
  • लेकिन हैरानी की बात ये है कि मल्टी लेयर सुरक्षा घेरे को तोड़कर कोई विस्फोटक लेकर कैसे पहुँच गया?
  • वहीँ इस पूरे घटनाक्रम में साजिश से इंकार भी नहीं किया जा सकता है.
  • इस प्रकार की वारदात के बाद सुरक्षा को लेकर सवाल उठने लगे हैं.
  • विस्फोटक नीले रंग के पॉलीथीन में रखा गया था.
  • जब राजधानी स्थित विधानसभा सुरक्षित नहीं है तो पूरे प्रदेश में सुरक्षा के प्रबंध कैसे होंगे?
  • ATS को इस मामले में जाँच के आदेश दिए गए हैं.
  • 2011 में दिल्ली हाईकोर्ट के बाहर हुए धमाके में PETN का इस्तेमाल किया गया था.
  • ये एक गंधहीन पदार्थ होता है और इसको X-रे मशीन भी नहीं पकड़ पाती है.
  • ये छोटी से छोटी मात्रा में बढ़ा धमाका कर सकता है.
  • वहीँ ये भी बात सामने आई है कि सदन के भीतर जाने वालों की तलाशी नहीं होती है.
  • ऐसे में सुरक्षा में हुई इस चूक की जवाबदेही किसकी होगी?

होम मिनिस्ट्री ने रिपोर्ट की तलब:

  • वहीँ इस मामले में होम मिनिस्ट्री ने रिपोर्ट तलब की है.
  • होम मिनिस्ट्री ने मामले पर यूपी पुलिस से रिपोर्ट मांगी है.
  • विधानसभा अध्यक्ष ने कहा था कि फॉरेंसिक जांच अधिकारियों ने विस्फोटक की क्षमता बताई है.
  • पूरी घटना के पीछे देश औऱ प्रदेश को बदनाम करने के साजिश है.
  • उन्होंने ATS को सदन में अन्दर प्रवेश की अनुमति दी.

यह भी पढ़ें: विस्फोटक मिलने के बाद नपेंगे ये सुरक्षा अधिकारी!

यह भी पढ़ें: UP विधानसभा के अन्दर मिला विस्फोटक पदार्थ!

यूपी से है मेरा बहुत पुराना रिश्ता-मीरा कुमार

1

भारत में जल्द ही नए राष्ट्रपति के लिए चुनाव होने जा रहे हैं, जिसके तहत केंद्र सरकार की ओर रामनाथ कोविंद और UPA की ओर से पूर्व लोकसभा स्पीकर मीरा कुमार(meira kumar lucknow) ने अपना नामांकन दाखिल किया है. गौरतलब है कि, राष्ट्रपति चुनाव आगामी 17 जुलाई को होना है. ऐसे में राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार मीरा कुमार शुक्रवार 14 जुलाई को समर्थन जुटाने के लिए उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ पहुँचीं. जहाँ उन्होंने बसपा सुप्रीमो मायावती ,सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव तथा कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर से मुलाक़ात की. इस के बाद उन्होंने एक प्रेस वार्ता को भी संबोधित किया.अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि देश एवं यूपी सरकार की निति विचार के विरोध में 17 दलों ने एक विचार के साथ मुझे देश के सर्वोच पद के चुनाव के लिये उम्मीदवार घोषित किया है.

ये भी पढ़ें :अखिलेश यादव ने की मीरा कुमार को समर्थन देने की अपील!

सपा, बसपा, आरएलडी एवं कांग्रेस के सांसद एवं विधायक दे रहे साथ-

  • राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार मीरा कुमार ने आज राजधानी लखनऊ में प्रेस कांफ्रेंस की.
  • प्रेस कांफ्रेंस के दौरान उन्होंने कहा कि यूपी 25 वां प्रांत है जंहा मै प्रचार करने आई हूँ.

ये भी पढ़ें: मायावती ने किया मीरा कुमार का जोरदार स्वागत!

  • उन्होंने आगे कहा कि मुझे सपा, बीएसपी, RLD और कांग्रेस के सांसद एवं विधायक समर्थन दे रहे है.
  • हमने मायावती एवं अखिलेष यादव से मुलाकात कर ली जिनका हमे पूरा समर्थन मिल रहा है.

ये भी पढ़ें: NSA ने IB को किया तलब, IB ने सौंपी रिपोर्ट!

प्रदेश में दलितो को ठगा जा रहा –

  • मीरा कुमार ने प्रेस वार्ता में कहा कि देश मे तीन वर्षो से जबकि यूपी मे तीन महीने से मनुवादी व्यावस्था को लागू किया जा रहा है.
  • साथ ही दलितो को ठगा जा रहा है जिससे दलित व्यथित हैं.

ये भी पढ़ें: शिवपाल ने बढ़ाई राष्ट्रपति चुनाव में क्रॉस वोटिंग की सम्भावना!

  • मीरा कुमार ने कहा की हमारे देश मे अल्पसंख्यक बहुसंख्यक मिल कर रहते हैं.
  • लेकिन देश मे एक दुर्भाग्य भी है कि यहाँ जाती व्यवस्था भी चलती है.

ये भी पढ़ें: मेरठ: ABVP कार्यकर्ताओं ने की MPGS स्कूल की तालाबंदी!

  • अपने संबोधन में मीरा कुमार ने कहा कि सभी धर्मो के लोग आपस मे मिल जुल कर रहे.
  • साथ ही सभी धर्मो का सम्मान करे है.

यूपी से है मेरा बहुत पुराना रिश्ता-

  • प्रेस वार्ता के दौरान मीरा कुमार ने कहा कि यूपी से मेरा बहुत पुराना रिश्ता है.
  • उन्होंने आगे कहा की कानपुर मेरा ननिहाल है.
  • मीरा कुमार ने कहा कि मैं यहाँ विशेष मकसद से आई हूँ.
  • उन्होंने बताया कि कुछ दिन पहले बड़ी घटना घटी.

लखनऊ मेट्रो: लोहे का बोर्ड 12वीं के छात्रों के सिर पर गिरा एक की मौत!

  • काग्रेस की मुखिया ने बड़े विशवास के साथ मुझे जिम्मेदारी सौपी है.
  • उन्होंने अपनी बात का समापन करते हुए कहा कि आपके चैनल एवं समाचार पत्रों के माध्यम से प्रदेश वासियों को मेरी शुभकामनाएं.

ये भी पढ़ें: ITBP में की गई पूर्व ADG लॉ एंड ऑर्डर दलजीत चौधरी की नियुक्ति!

  • इस दौरान कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर ने कहा कि 1984 में मैंने बिजनौर से पहला लोक सभा चुनाव लडा था.
  • उन्होंने कहा कि इस देश में विचारों की लडाई है.
  • एक वह जो अपनो को लेकर चलते है एक वह जो केवल दिखावा करते है.

ये भी पढ़ें: गोरखपुर एम्स के लिए केंद्र-राज्य सरकार ने MOU पर किया हस्ताक्षर!

1

अखिलेश यादव ने की मीरा कुमार को समर्थन देने की अपील!

1

राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार मीरा कुमार ने आज सपा कार्यालय पहुंचकर सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से मुलाकात की. कांग्रेस सांसद प्रमोद तिवारी, कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष राजबब्बर भी इस दौरान मौजूद रहे. मीरा कुमार से मुलाक़ात के दौरान अखिलेश यादव ने कहा कि हमारी पार्टी ने तय किया है कि हम यूपीए की उम्मेदवार मीरा कुमार को वोट देंगे और उन्हें विजय बनाने का पूरा सहयोग करेंगे. इस दौरान अखिलेश यादव ने सभी राजनीतिक दलों से मीरा कुमार को समर्थन देने की अपील भी की . उन्होंने कहा कि हम और भी जो राजनीतिक दल हैं उनसे भी निवेदन करेंगे कि वह भी राष्ट्रहित में मीरा कुमार को समर्थन दें.

ये भी पढ़ें: मायावती ने किया मीरा कुमार का जोरदार स्वागत!

हमें सेक्यूलरिज़्म को चुनना चाहिए-राम गोविन्द चौधरी

ये भी पढ़ें: NSA ने IB को किया तलब, IB ने सौंपी रिपोर्ट!

  • इस दौरान राम गोविन्द चौधरी ने कहा की सपा के सभी विधायक सर्वसम्मति से मीरा कुमार को वोट देंगे इसका आश्वासन दिया गया है.

ये भी पढ़ें: शिवपाल ने बढ़ाई राष्ट्रपति चुनाव में क्रॉस वोटिंग की सम्भावना!

  • उन्होंने आगे कहा कि हम आशा करते हैं कि सभी पार्टियों के जो भी जनप्रतिनिधि हैं उन्हें मीना कुमार को चुनना चाहिए.

ये भी पढ़ें: मेरठ: ABVP कार्यकर्ताओं ने की MPGS स्कूल की तालाबंदी!

  • राम गोविन्द ने चौधरी ने कहा कि एक तरफ सांप्रदायिक ताकतें हैं तो दूसरी तरफ धर्मनिरपेक्षता ‘सेक्यूलरिज़्म’ है.
  • हमें सेक्यूलरिज़्म को चुनना चाहिए.

लखनऊ मेट्रो: लोहे का बोर्ड 12वीं के छात्रों के सिर पर गिरा एक की मौत!

बसपा सुप्रीमो से भी की मुलाकात:

ये भी पढ़ें: ITBP में की गई पूर्व ADG लॉ एंड ऑर्डर दलजीत चौधरी की नियुक्ति!

ये भी पढ़ें: गोरखपुर एम्स के लिए केंद्र-राज्य सरकार ने MOU पर किया हस्ताक्षर!

  • ऐसे में राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार मीरा कुमार शुक्रवार 14 जुलाई को समर्थन जुटाने के लिए उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ पहुँचीं.
  • इस दौरान उन्होंने बसपा सुप्रीमों मायावती के आवास पर पहुँच कर उनसे मुलाक़ात की.

ये भी पढ़ें : महागुन सोसाइटी में तोड़फोड़ करने के मामले में 13 गिरफ्तार!

लखनऊ में भी होगा मतदान(meira kumar lucknow):

  • विधानसभा के तिलक हॉल में 17 जुलाई को सुबह 10 बजे से 5 बजे तक राष्ट्रपति के लिए मतदान होगा.
  • वोटिंग के लिए तिलक हॉल में 4 टेबल होगी.

ये भी पढ़ें: क्या है पीईटीएन विस्फोटक, देखें खतरनाक वीडियो!

  • राष्ट्रपति चुनाव के मतदान के लिए तैयारियां अंतिम चरण में हैं.
  • टेबल क पर चुने हुए सांसद मत देंगे.

देवरिया के इस युवक ने दी थी विधानसभा उड़ाने की धमकी!

  • अन्य 3 टेबलों को विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र के क्रम में बांटा गया है.
 गोंडा: पटाखा दगते ही घोड़े सहित कुंए में गिरा दूल्हा!

 

1