अपने गम भुलाइए, थोड़ा मुस्कुराइए, हास्य दिवस मनाइए...!

अपने गम भुलाइए, थोड़ा मुस्कुराइए, हास्य दिवस मनाइए...!

आज दिल खोलकर हंसिए क्योंकि आज हंसने का दिन है...अब ये मत समझ लीजिएगा कि आज जो 'आप' वाले कपिल मिश्रा ने 2 करोड़ का बम केजरीवाल के माथे (सिर) पर फोड़ा है उस पर हंसने के लिए नही कह रहे हैं बल्कि दो कारण बताते हैं। पहला- आज विश्व हास्य दिवस है इसलिए कह रहे हैं दिल खोलकर हंसिए और दूसरा- हंसने के लिए पैसा थोड़े ही न लगता है।

अपने गम भुलाइए, विश्व हास्य दिवस मनाइए...

देखिए वीडियो...
https://www.youtube.com/watch?v=XExqZ-uaYGM

हास्य जीवन की अनमोल सम्पत्ति :

  • हास्य जीवन की अनमोल सम्पत्ति है, एक कहावत भी है कि हंसता वही व्यक्ति है जो जी रहा होता है।
  • हंसने से नए व रचनात्मक विचार मस्तिष्क में उत्पन्न होते हैं जो कि उर्जा का संचार करते हैं।
  • इसलिए चाहे हल्के हंसो या जोर-जोर से ठहाके लगाओ कुछ न कुछ फायदा तो मिलेगा ही।

विश्व हास्य दिवस के बारे में जानकारी :

  • विश्व भर में मई महीने के पहले रविवार को विश्व हास्य दिवस मनाया जाता है।
  • इसका विश्व दिवस के रूप में प्रथम आयोजन 11 जनवरी 1998 को मुंबई में हुआ था।
  • विश्व हास्य योग आंदोलन की स्थापना का श्रेय डॉ मदन कटारिया को जाता है।
  • हास्य योग के अनुसार, हास्य सकारात्मक और शक्तिशाली भावना है।
  • जिसमें व्यक्ति को ऊर्जावान और संसार को शांतिपर्ण बनाने के सभी तत्व उपस्थित रहते हैं।
  • विश्व हास्य दिवस का आरंभ संसार में शांति की स्थापना और मानवमात्र में भाईचारे और सदभाव के उद्देश्य से हुई।

Share it
Share it
Share it
Top