बेटी ने मां बन पिता को पिलाया 'ब्रेस्ट मिल्क', दिया नया जीवनदान!

बेटी ने मां बन पिता को पिलाया

आपने यूरोप के प्रसिद्ध कलाकार बारतोलोमिओ एस्तेबन मुरिलो की बनाई तस्वीर और उससे जुड़ी कहानी के बारे में सुना ही होगी, वही कहानी और तस्वीर जिसमें एक बेटी, ताजिंदगी भूखे रहने की सजा काट रहे पिता को हर दिन जेल में जाकर स्तनपान कराकर जीवनदान देती है। ऐसे ही एक और बेटी ने पिता को नया जीवन दिया है। पिता को नई जिंदगी देने की खबर स्वीडन से आ रही है। यहां कैंसर पीड़ित पिता को बेटी ने पिलाया अपना‘ब्रेस्ट मिल्क' और वे पूरी तरह से स्वस्थ हो गये।

बेटी ने पिता को दी नई जिंदगी :

  • पिता को नई जिंदगी देने का एक बड़ी ही खूबसूरत खबर आ रही है।
  • खबर के मुताबिक स्वीडन में 2015 में 64 साल के फ्रेड व्हाइट लॉ बॉवल कैंसर से पीड़ित थे।
  • यह खबर जब फ्रेड की 30 साल की बेटी जिल को पता चली, तो वह पिता को खोने से घबरा गई थी।
  • पिता के कैंसर की बीमारी के दौरान जिल को ब्रेस्ट मिल्क की रिसर्च के बारे में पता चला।
  • ब्रेस्ट मिल्क की बात जब उन्होंने अपनी परिवार से शेयर की तो सबको यब बात मजाक लगी।
  • वहीं जिल को इस बात का डर सता रहा था कि उसके पिता उसका ब्रेस्ट मिल्क नहीं पीएंगे।
  • ऐसे में जिल ने किसी तरह उन्हें मनाकर ये दूध पिलाने के लिए राजी किया, आज उनके पिता स्वस्थ हैं।
  • पिता के अलावा जिल के पति काइल अपनी एक्जिमा बीमारी के इलाज के लिए भी ब्रेस्ट मिल्क का उपयोग करते हैं।
  • जिल ने अपने बेटे लेविन के कंजट्वाइटिस के इलाज के लिए भी ब्रेस्ट मिल्क का ही उपयोग किया था।

'ब्रेस्ट मिल्क' कैंसर के इलाज के लिए बेहद उपयोगी :

  • क्या आपको मालूम है कि 'ब्रेस्ट मिल्क' कैंसर के इलाज के लिए भी बेहद उपयोगी है?
  • स्वीडन की एक प्रोफ़सर ने यह दावा किया है कि ब्रेस्ट मिल्क से कैंसर का इलाज संभव है।
  • रिसर्च के मुताबिक, ब्रेस्ट मिल्क में हमलेट नाम का पदार्थ पाया जाता है, जो ट्यूमर सेल्स को नष्ट करने में सहायक है।
  • स्वीडन की Lund University की प्रोफेसर कैथरीन स्वानबोर्ग पिछले कई सालों से इस पर रिसर्च कर रही हैं।
  • कैथरीन के मुताबिक ब्लैडर कैंसर से पीड़ित मरीजों पर ब्रेस्ट मिल्क का टेस्ट किया गया है।
  • फ्रेड ही नहीं बल्कि कई दूसरे मरीजों पर भी किए गए टेस्ट के रिजल्ट पॉजीटिव पाए गए हैं।
यह भी पढ़ें...
जेटली ने केजरीवाल पर ठोका 10 करोड़ का एक और मानहानि का मुकदमा!थानों में शिकायत से पहले पीड़ितों को गुड़-चना और ठंडा पानी पिला रही पुलिस!कांग्रेस ने नाथूराम गोडसे के स्मारक के निर्माण का किया विरोध!

Share it
Share it
Share it
Top