FIFA U17 WC: फुटबॉल के महाकुम्भ में इतिहास रचने उतरेगा भारत

FIFA U17 WC: फुटबॉल के महाकुम्भ में इतिहास रचने उतरेगा भारत

आज भारतीय फुटबॉल टीम अमेरिका के खिलाफ मैच खेलने उतरेगी और ये क्षण इतिहास के पन्नों में सुनहरे अक्षरों में दर्ज हो जायेगा. भारत पहली बार फीफा विश्व कप की मेजबानी कर रहा है.इसी के साथ भारत का 60 साल का सूखा ख़त्म हो रहा और भारत को मेजबानी करने का मौका मिला है. दरअसल भारत में लीग स्तर के टूर्नामेंट होते रहते हैं लेकिन विश्व मंच पर भारतीय टीम अन्य के मुकाबले काफी कमजोर रही है. इस प्रकार के टूर्नामेंट के सफल आयोजन से भारतीय टीम को भी नयी ऊर्जा मिलेगी. थोड़ी देर में मैच शुरू होने जा रहा है.

ऐतिहासिक क्षण का हर कोई बनना चाहता है गवाह:

  • अगर खिलाड़ियों की बात करें तो मणिपुरी मिडफील्डर अमरजीत सिंह कियाम ऐंड कंपनी किसी भी फीफा टूर्नमेंट में शिरकत करने की उपलब्धि हासिल करने वाली पहली भारतीय टीम बन जाएगी.
  • बाईचुंग भूटिया, आई एम विजयन और सुनील छेत्री जैसे भारतीय फुटबॉलर के हिस्से में ये उपलब्धि नहीं है.
  • भारत के लिए जीत-हार से बढ़कर ये प्रतियोगिता है.
  • एक तरफ मेजबानी और दूसरी तरफ आसमान छू लेने की ख्वाहिशें..
  • आज क्रिकेट के दीवाने भारत में फुटबॉल का खुमार सर चढ़ कर बोल रहा है.

प्रधानमंत्री मोदी भी पहुंचे

  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस बड़े अवसर पर स्टेडियम पहुंचे.
  • उन्होंने भारतीय फुटबॉल में अहम योगदान देने वाले विजयन सुनील छेत्री और बाईचुंग भूटिया को सम्मानित किया.
  • स्टेडियम में माहौल देखते ही बनता है.
  • तिरंगा लहरा रहा है, हर कोई झूम रहा है.
  • हर कोई इस ऐतिहासिक क्षण का गवाह बनने को बेताब दिखाई दे रहा है.
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज फीफा अंडर-17 वर्ल्ड कप में हिस्सा लेने वाली सभी टीमों को शुभकामनाएं दी हैं

Share it
Share it
Share it
Top