जब सदन में ‘विदेशनीति’ पर बोले पूर्व प्रधानमंत्री चन्द्रशेखर सिंह!

पूर्व प्रधानमंत्री चन्द्रशेखर सिंह भी अपने तीखे तंज के लिए जाने जाते थे, भाजपा की विदेश नीति पर सवाल उठाते हुए सदन में मंत्रीमंडल पर तीखा प्रहार किया था। बलिया के टाइगर कहे जाने वाले चन्द्रशेखर ने इलाहाबाद यूनिवर्सिटी से अपनी शिक्षा पूरी की थी। भ्रस्टाचार के खिलाफ सत्यनिष्ठा की बात करते हुए उन्होंने सदन को सम्बोधित किया और बेहद सरल अंदाज़ में उन्होंने सबको निरुत्तर कर दिया था।

8 July 2007 को उनका अपोलो अस्पताल में निधन हो गया, उन्होंने अपना संपूर्ण जीवन समाजवाद को समर्पित कर दिया, पूर्वांचल में उन्होंने लोकप्रियता का एक नया आयाम कायम किया था।

अगले पेज पर: जब सदन में सुषमा स्वराज ने ‘धर्मनिरपेक्षता’ की बदलती परिभाषा और ‘भारतीयता’ मायने समझाए