हमीरपुर: 4 दिन की जांच के बाद CBI लखनऊ रवाना!

उत्तर प्रदेश में अवैध खनन को लेकर योगी सरकार समेत इलाहाबाद हाई कोर्ट भी काफी गंभीर है, जिसके तहत अवैध खनन में लिप्त लोगों को लगातार चिन्हित किया जा रहा है। इसी क्रम में अवैध खनन मामले की जांच कर रही सीबीआई की एक टीम हमीरपुर(illegal mining hamirpur) पहुंची थी। इस दौरान सीबीआई की टीम ने अवैध खनन को लेकर काफी सबूत इकठ्ठा किये।

4 दिन की जांच के बाद लखनऊ रवाना हुई CBI टीम(illegal mining hamirpur):

  • बीते गुरुवार को सीबीआई की एक जांच टीम हमीरपुर पहुंची थी।
  • जहाँ उन्होंने अवैध खनन को लेकर जिले में सबूत इकठ्ठा किये।
  • सीबीआई की टीम 4 दिन की जांच के बाद लखनऊ के लिए रवाना हो चुकी है।

बसपा और सपा के पूर्व मंत्रियों की भूमिका की जांच(illegal mining hamirpur):

  • गुरुवार को सीबीआई की एक जांच टीम हमीरपुर पहुंची थी।
  • जहाँ सीबीआई अवैध मौरंग खनन को लेकर अपनी जांच शुरू की थी।
  • जांच के तहत सीबीआई बसपा और सपा के दो पूर्व मंत्रियों की भूमिका की भी जांच कर रही थी।
  • गौरतलब है कि, मामले में सीबीआई जांच के आदेश इलाहाबाद हाई कोर्ट द्वारा दिए गए हैं।
  • इलाहाबाद हाई कोर्ट अवैध खनन को लेकर जनहित याचिका दायर की गयी थी।

गायत्री प्रजापति और बाबु सिंह कुशवाहा के खिलाफ मिले सबूत(illegal mining hamirpur):

  • मौरंग सिंडिकेट वसूली में सपा और बसपा के पूर्व मंत्रियों के खिलाफ सीबीआई को सबूत मिले थे।
  • जिसके बाद सीबीआई ने सपा के पूर्व मंत्री गायत्री प्रजापति और,
  • बसपा के पूर्व मंत्री बाबु सिंह कुशवाहा के खिलाफ अपनी जांच शुरू कर दी है।
  • इसी क्रम में सीबीआई ने जिले के पट्टा धारकों से भी पूछताछ की थी।
  • इसके साथ ही सीबीआई ने पट्टा धारकों के बैंक खातों की भी जांच की थी।

सपा-बसपा के कार्यकाल में हुई लाखों-करोड़ों की वसूली(illegal mining hamirpur):

  • सूबे में अवैध खनन को लेकर सीबीआई की टीम हमीरपुर जिले में पहुंची थी।
  • जहाँ सपा-बसपा के पूर्व मंत्रियों के खिलाफ सबूत मिले थे।
  • गौरतलब है कि, सपा और बसपा के कार्यकाल में लाखों-करोड़ों रूपये की वसूली हुई थी।
  • वहीँ जिले के खनन माफिया सीबीआई जांच के दौरान दहशत के चलते भूमिगत हो गए थे।
  • गौरतलब है कि, योगी सरकार भी सूबे में नई खनन नियमावली को जारी कर चुकी है।

ये भी पढ़ें: अब अवैध खनन किया तो देना होगा इतना ‘जुर्माना’!

CM ने नाव से लिया बाढ़ का जायजा, बांटी राहत सामग्री!

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में स्थित बाबा राघव दास मेडिकल कॉलेज में ऑक्सीजन की सप्लाई बंद होने से करीब 60 से ज्यादा लोगों की मौत हो गयी थी, जिसके बाद मामले में योगी सरकार की काफी किरकिरी भी हुई थी। साथ ही साथ सूबे के राजनीतिक दलों में मामले में राजनीति करने से भी परहेज नहीं किया। इसी क्रम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इंसेफ्लाइटिस से रोकथाम से जागरूकता के लिए जिले में सफाई के विशेष अभियान के लिए गोरखपुर पहुंचे थे। जहाँ उन्होंने विशेष सफाई अभियान और जागरूकता अभियान की शुरुआत की थी। जिसके बाद CM योगी ने गोरखपुर में बाढ़ग्रस्त इलाकों का निरीक्षण(yogi inspected flood) किया।

मछरियाघाट में CM योगी ने बांटी राहत किट(yogi inspected flood):

  • सफाई के विशेष अभियान की शुरुआत के बाद मुख्यमंत्री योगी ने जिले के बाढ़ग्रस्त इलाकों का दौरा किया था।
  • इस दौरान मुख्यमंत्री योगी पीपीगंज पहुंचे थे।
  • जहाँ सीएम योगी ने पीपीगंज के मछरियाघाट में बाढ़ पीड़ितों से मुलाकात की।
  • साथ ही सीएम योगी ने मछरियाघाट में बाढ़पीड़ितों को राहत सामग्री भी वितरित की।

नाव में बैठकर सीएम योगी ने किया सर्वेक्षण(yogi inspected flood):

  • मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को महाराजगंज-कुशीनगर से पहले गोरखपुर में बाढ़ का सर्वेक्षण किया।
  • निरीक्षण के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नाव में बैठकर बाढ़ग्रस्त इलाकों को देखा।

ये भी पढ़ें: गोरखपुर: अखिलेश यादव पर CM योगी का हमला!

CM योगी के बाद विधानसभा को उड़ाने की धमकी!

उत्तर प्रदेश में बीते काफी समय से लगातार आतंकी गतिविधियाँ देखने को मिल रही हैं, बीते गुरुवार को एक व्यक्ति ने फोन पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को एक घंटे में मारने की धमकी दी थी। गौरतलब है कि, यह दिल्ली पुलिस के कण्ट्रोल रूम में किया गया था, जिसके बाद दिल्ली पुलिस ने उत्तर प्रदेश पुलिस को मामले की सूचना दी थी। इसी क्रम में शुक्रवार की रात को एक बार फिर से फोन पर धमकी(UP assembly destroy threat) दी गयी है।

उत्तर प्रदेश विधानसभा उड़ाने की धमकी(UP assembly destroy threat):

  • बीते गुरुवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को जान से मारने की धमकी दी गयी थी।
  • इसी क्रम में शुक्रवार की रात को एक बार फिर से ऐसी ही धमकी दी गयी है।
  • इस बार यह धमकी उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ स्थित विधानसभा को उड़ा देने की दी गयी है।
  • यह धमकी लखनऊ पुलिस कंट्रोल रूम को फोन पर दी गयी।
  • जिसके बाद मामले में लखनऊ एसपी ने मीडिया से बातचीत की।

कॉलर को मानसिक विक्षिप्त बता रही है लखनऊ पुलिस(UP assembly destroy threat):

  • शुक्रवार की रात को एक अज्ञात व्यक्ति द्वारा यूपी विधानसभा को उड़ाने की धमकी दी गयी है।
  • इसके साथ ही पुलिस कॉलर को मानसिक रूप से विक्षिप्त बता रही है।
  • लखनऊ एसपी ने मामले में मीडिया से बातचीत की।
  • जिसमें उन्होंने बताया कि, अम्बेडकरनगर के युवक ने फोन किया था।
  • उन्होंने आगे बताया कि, जिसके बाद अफसरों ने फोन किया तो उन्हें भी धमकी दे रहा था।

दिल्ली पुलिस को दी गयी थी CM योगी को जान से मारने की धमकी(UP assembly destroy threat):

  • बीते काफी समय से उत्तर प्रदेश में आतंकी गतिविधियां लगातार देखने को मिल रही है।
  • वहीँ सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर आतंकी हमले का इनपुट भी ख़ुफ़िया एजेंसियां दे चुकी थीं।
  • इसी क्रम में गुरुवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को जान से मारने की धमकी दी गयी थी।
  • यह धमकी फोन पर एक अज्ञात व्यक्ति के माध्यम से दी गयी थी।
  • दिलचस्प बात यह है कि, मुख्यमंत्री योगी को जान से मारने की धमकी दिल्ली पुलिस को दी गयी थी।
  • जिसके बाद दिल्ली पुलिस ने मामले की पूरी जानकारी उत्तर प्रदेश पुलिस को दी थी।

ये भी पढ़ें: 1 घंटे में CM योगी को जान से मारने की धमकी!

आगरा में भारतीय शिक्षा पर किया जायेगा ‘मंथन’!

उत्तर प्रदेश के आगरा जिले और ताज नगरी में शनिवार 19 अगस्त को भारतीय शिक्षा(indian education system) पर एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया है। कार्यक्रम में भारतीय शिक्षा पर ‘मंथन’ किया जायेगा। इस दौरान कार्यक्रम में कई महानुभाव शिरकत करेंगे।

उप-मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा करेंगे शिरकत(indian education system):

  • सूबे की ताज नगरी में शनिवार से भारतीय शिक्षा पर एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया है।
  • कार्यक्रम में भारतीय शिक्षा को लेकर मंथन किया जायेगा।
  • इस दौरान सूबे के उप-मुख्यमंत्री डॉ० दिनेश शर्मा कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के तौर पर शिरकत करेंगे।
  • इसके साथ ही राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरकार्यवाहक कृष्ण गोपाल भी मौजूद रहेंगे।
  • इसके साथ ही देश भर से तमाम शिक्षाविद भी आगरा पहुंचेंगे।

500 तकनीक के शिक्षक भी पहुंचेंगे(indian education system):

  • शनिवार से आगरा में भारतीय शिक्षा पर एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया है।
  • जिसके तहत कार्यक्रम में देश भर से तमाम शिक्षाविद भी कार्यक्रम में शिरकत करेंगे।
  • इसके साथ ही कार्यक्रम में प्राथमिक, माध्यमिक और उच्च शिक्षा से जुड़े लोग भी शिरकत करेंगे।
  • साथ ही कार्यक्रम में तकनीकी शिक्षा के भी 500 से ज्यादा शिक्षक कार्यक्रम में शिरकत करेंगे।

ये भी पढ़ें: सहारनपुर में गोरखपुर की गलती नहीं दोहराएंगे CM योगी!

प्रशासन ने बाढ़ के लिए जारी किये हेल्पलाइन नंबर!

देश में दक्षिणी-पश्चिमी मानसून समेत नेपाल में हो रही भारी बारिश ने उत्तर प्रदेश के कई जिलों को बाढ़ में डुबो दिया है, जिसके चलते सूबे में लाखों लोग बाढ़ से प्रभावित होकर राहत कैम्पों में शरण लेने को मजबूर हैं। वहीँ सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अब तक गोंडा, श्रावस्ती, बहराइच, बाराबंकी, पीलीभीत, लखीमपुर, सीतापुर, बलरामपुर और सिद्धार्थनगर में बाढ़ग्रस्त इलाकों का हवाई और जमीनी निरीक्षण कर चुके हैं। वहीँ बाढ़ग्रस्त इलाकों की जानकारी के लिए प्रशासन की ओर से हेल्पलाइन नंबर(Disaster helpline number) भी जारी किये गए हैं।

महाराजगंज और गोरखपुर के लिए हेल्पलाइन नंबर जारी(Disaster helpline number):

  • सूबे में भीषण बारिशा के चलते सूबे के कई जिले बाढ़ की चपेट में हैं।
  • इसके साथ ही पड़ोसी देश नेपाल भी बांधों से पानी छोड़ रहा है।
  • जिसके चलते उत्तर प्रदेश की कई नदियाँ अपने उफान पर हैं।
  • इसी क्रम में उत्तर प्रदेश प्रशासन ने बाढ़ग्रस्त इलाकों के लिए हेल्पलाइन नंबर जारी किये हैं।
  • प्रशासन की ओर से गोरखपुर और महाराजगंज के लिए हेल्पलाइन नंबर जारी किये गए हैं।

हेल्पलाइन नंबर(Disaster helpline number):

गोरखपुर(Disaster helpline number):

  • प्रशासन ने बाढ़ आपदा कंट्रोल रूम नंबर 0551-2201796 जारी किया है।
  • सिंचाई विभाग के कंट्रोल रूम का 0551-2204007 भी जारी किया गया है।

महाराजगंज(Disaster helpline number):

  • प्रशासन ने बाढ़ आपदा कंट्रोल रूम नंबर 9415470322, 9450439333 किये हैं।
  • कंट्रोल रूम के 8004931410 नंबर पर भी बाढ़ पीड़ित मदद मांग सकते हैं।

ये भी पढ़ें: महाराजगंज: 261 गाँव डूबे, CM योगी दोबारा जिले में!

सहारनपुर में गोरखपुर की गलती नहीं दोहराएंगे CM योगी!

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शनिवार को महाराजगंज और कुशीनगर जिले के दौरे पर हैं, जहाँ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बाढ़ग्रस्त इलाकों का दौरा करेंगे। इसके साथ ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बाढ़ पीड़ितों को राहत किट भी वितरित करेंगे। इसी क्रम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सोमवार 21 अगस्त को सहारनपुर(CM yogi saharanpur) जिले के दौरे पर जायेंगे।

जिला अस्पताल के निरीक्षण, समीक्षा बैठक(CM yogi saharanpur):

  • अभी हाल ही में BRD मेडिकल कॉलेज में हुई घटना में 60 से ज्यादा बच्चों की मौत हो चुकी थी।
  • जिसके बाद मामले में सरकार की काफी किरकिरी भी हुई थी।
  • इसी क्रम में सोमवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सहारनपुर जा रहे हैं।
  • गोरखपुर घटना से सबक लेते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जिला अस्पताल का दौरा करेंगे।
  • हालाँकि, गोरखपुर हादसे से पहले भी सीएम ने BRD का निरीक्षण किया था।
  • लेकिन अधिकारियों ने सीएम योगी से ऑक्सीजन की कमी मुख्यमंत्री योगी से छुपायी थी।
  • जिसके तहत ऐसा माना जा रहा है कि, सहारनपुर में यह गलती सीएम नहीं दोहराएंगे।

जिले की समीक्षा बैठक(CM yogi saharanpur):

  • सहारनपुर जिला अस्पताल के निरीक्षण के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ समीक्षा बैठक करेंगे।
  • समीक्षा बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जिले की समस्याओं और विकास कार्यों की समीक्षा बैठक भी करेंगे।
  • इसके साथ ही सीएम योगी सहारनपुर की कानून-व्यवस्था का भी जायजा लेंगे।
  • गौरतलब है कि, बीते कुछ महीनों में सहारनपुर का माहौल ख़राब हुआ है।
  • जब बसपा सुप्रीमो की रैली के बाद जिले में सांप्रदायिक तनाव और बढ़ गया था।

CM योगी के कार्यक्रम(CM yogi saharanpur):

  • सोमवार को मुख्यमंत्री योगी सहारनपुर जिले के दौरे पर जा रहे हैं।
  • जिसके तहत मुख्यमंत्री योगी सोमवार को 11 बजे विशेष विमान से सरसांवा एयरबेस पहुंचे थे।
  • जहाँ सीएम योगी जिला अस्पताल और मलिन बस्ती का निरीक्षण करेंगे।
  • इसके साथ ही मुख्यमंत्री योगी शहीद जयद्रथ के घर भी जायेंगे।
  • दोपहर 2.30 बजे मुख्यमंत्री योगी सहारनपुर से लखनऊ के लिए रवाना होंगे।

ये भी पढ़ें: सीएम योगी के निशाने पर कांग्रेस के ‘युवराज’!

36 घंटे में वन विभाग ने पकड़े 38 अवैध वाहन!

उत्तर प्रदेश के आगरा जिले में वन विभाग ने गुरुवार 18 अगस्त से सघन चेकिंग अभियान(DFO checking agra) चलाया था, जो शुक्रवार की रात तक जारी रहा, इस दौरान उत्तर प्रदेश के इस जिले की सड़कों पर घूम रहे अवैध वाहनों को लेकर बड़ी सफलता हाथ लगी है।

DFO checking agra

36 घंटे में आगरा वन पुलिस ने पकड़े 38 वाहन(DFO checking agra):

  • उत्तर प्रदेश की आगरा वन विभाग ने गुरुवार से रात में सघन चेकिंग अभियान चलाया था।
  • जिसके तहत जिले की सड़कों पर घूम रहे अवैध वाहनों को लेकर बड़ी सफ़लता हाथ लगी है।
  • पिछले 36 घंटों में आगरा वन पुलिस ने चेकिंग अभियान के तहत 38 अवैध वाहनों को पकड़ा है।

DFO checking agra

यहाँ के पकड़े गए अवैध वाहन(DFO checking agra):

  • पिछले 36 घंटों में आगरा वन पुलिस ने सघन तलाशी अभियान के तहत अवैध वाहनों पर कार्रवाई की।
  • इस दौरान कुल 38 अवैध वाहन पकड़े गए।
  • जिसमें से 12 वाहन पिनाहट के,
  • 4 वाहन फतेहाबाद,
  • 4 वाहन बाह,
  • 3 वाहन आगरा,
  • 4 वाहन किरौली,
  • 3 वाहन गोवर्धन,
  • 3 वाहन फिरोजाबाद,
  • 4 वाहन मथुरा,
  • 1 वाहन मैनपुरी का पकड़ा गया है।

DFO checking agra

आगरा, मथुरा, मैनपुरी और फिरोजाबाद DFO के नेतृत्व में चला अभियान(DFO checking agra):

  • पिछले 36 घंटों में आगरा वन पुलिस ने सघन चेकिंग अभियान में कुल अवैध 36 वाहन पकड़े हैं।
  • इस चेकिंग अभियान को आगरा, मथुरा, मैनपुरी और फिरोजाबाद के DFO ने चलाया था।
  • वहीँ यह अभियान कंजरवेटर रमेश पाण्डेय के नेतृत्व में चलाया गया था, जिसमें बड़ी सफलता हाथ लगी है।
  • आगरा-मथुरा DFO मनीष मित्तल,
  • सिद्धार्थ अम्बेडकर DFO मैनपुरी,
  • उमाशंकर दोहरे DFO फिरोजाबाद और उनकी टीम ने ये सफ़लत हासिल की है।

DFO checking agra

ये भी पढ़ें: इटावा: खनन माफियाओं ने वन विभाग की टीम पर किया हमला!

गोरखपुर: अखिलेश यादव पर CM योगी का हमला!

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में स्थित बाबा राघव दास मेडिकल कॉलेज में ऑक्सीजन की सप्लाई बंद होने से करीब 60 से ज्यादा लोगों की मौत हो गयी थी, जिसके बाद मामले में योगी सरकार की काफी किरकिरी भी हुई थी। साथ ही साथ सूबे के राजनीतिक दलों में मामले में राजनीति करने से भी परहेज नहीं किया। इसी क्रम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इंसेफ्लाइटिस से रोकथाम से जागरूकता के लिए जिले में सफाई के विशेष अभियान(clean uttar pradesh healthy uttar pradesh) के लिए गोरखपुर पहुंचे थे। जहाँ उन्होंने विशेष सफाई अभियान और जागरूकता अभियान की शुरुआत की। इसके साथ ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कार्यक्रम को संबोधित भी किया।

CM योगी ने लगाई झाड़ू:

  • विशेष अभियान के संबोधन के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दलित बस्ती में झाड़ू लगायी।
  • झाड़ू लगाकर मुख्यमंत्री योगी ने सफाई अभियान और जागरूकता अभियान की शुरुआत भी की।

वीडियो:

CM योगी का संबोधन(clean uttar pradesh healthy uttar pradesh):

इंसेफ्लाइटिस के लिए दो बातें जरुरी(clean uttar pradesh healthy uttar pradesh):

  • अपने संबोधन में मुख्यमंत्री योगी का पूरा ध्यान इंसेफ्लाइटिस पर केन्द्रित रहा।
  • जिसमें उन्होंने कहा कि, इंसेफ्लाइटिस के लिए दो बातें बहुत जरुरी हैं।
  • पहली सफाई, दूसरा शुद्ध पेय जल।
  • इंसेफ्लाइटिस रोकने के लिए स्वच्छता बहुत जरुरी है।

पिछली सरकारें जिम्मेदार(clean uttar pradesh healthy uttar pradesh):

  • कार्यक्रम में मुख्यमंत्री योगी ने इंसेफ्लाईटिस के लिए पिछली सरकारों पर निशाना साधा।
  • जिसमें उन्होंने कहा कि, पूर्व में मैंने सरकारों को बोला अगर इन्सेफलिटिस को रोकना है तो सफाई और शुद्ध पेयजल की व्यवस्था करनी होगी।
  • आमजन को स्‍वच्‍छता अभियान में बढ-चढ़कर भाग लेने की आवश्‍यकता है।

93 लाख बच्चों का टीकाकरण(clean uttar pradesh healthy uttar pradesh):

  • मुख्यमंत्री योगी ने आगे इंसेफ्लाइटिस के लिए होने वाले टीकाकरण पर बात की।
  • जिसमें उन्होंने कहा कि, 38 जिलों में 93 लाख बच्चों का टीकारण किया गया है।
  • पिछले 4 महीनों यूपी में ODP का रिकॉर्ड अच्छा रहा।
  • BRD में हुई मौतों के लिए पिछली सरकार को मुख्यमंत्री योगी ने दोषी ठहराया।

अधियारी बाग़ में कार्यक्रम(clean uttar pradesh healthy uttar pradesh):

  • मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शनिवार को गोरखपुर जिले के दौरे पर पहुँच थे।
  • जहाँ उन्होंने स्वच्छता और जागरूकता के लिए विशेष अभियान की शुरुआत की।
  • कार्यक्रम का आयोजन अधियारी बाग़ की दलित बस्ती में किया गया था।
  • अधियारी बाग़ पहुंचकर मुख्यमंत्री योगी ने सबसे पहले अम्बेडकर की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया।

एयरपोर्ट पहुंचे मुख्यमंत्री योगी(clean uttar pradesh healthy uttar pradesh):

  • मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शनिवार को गोरखपुर में सफाई के विशेष अभियान की शुरुआत करेंगे।
  • गौरतलब है कि, यह विशेष अभियान इंसेफ्लाइटिस से रोकथाम के लिए सफाई की आवश्यकता की महत्ता बताई जाएगी।
  • जिसके तहत मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गोरखपुर एयरपोर्ट पहुँच चुके हैं।

ये भी पढ़ें: गोरखपुर: स्वच्छ यूपी, स्वस्थ्य यूपी कार्यक्रम की शुरुआत!

एयर इंडिया फोन कर पूछेगा, क्या खाओगे आप?

साल 2014 के बाद से एयर इंडिया की हालत में काफी सुधार हुआ है, इससे पहले एयर इंडिया अपने सबसे बुरे दौरे से गुजर रही थी। वहीँ एयर इंडिया अपने यात्रियों को मिलने वाली सुविधाओं को बढ़ाने और बेहतर करने में लगी हुई है, जिसके तहत एयर इंडिया(air india) ने यात्रियों को घर जैसा महसूस कराने को लेकर एक योजना बनायी है।

अब फोन कर एयर इंडिया पूछेगा क्या खायेंगे आप(air india):

  • एयर इंडिया अपने यात्रियों को एक अलग अनुभव देने के लिए नई योजना बना रहा है।
  • जिसके तहत एयर इंडिया उड़ान से दो दिन पहले यात्री से फ़ोन कर उसके मनपसंद खाने के बारे में पूछेगा।
  • जिसके बाद एयरलाइन्स यात्रियों की पसंद का खाना उन्हें उड़ान के दौरान उपलब्ध करवाएगी।
  • शुरूआती स्टेज में यह योजना फर्स्ट क्लास और बिज़नस क्लास के लिए लागू की जाएगी।
  • योजना की कामयाबी के बाद इसे इकॉनमी क्लास में भी लागू किया जायेगा।

खाने की बर्बादी रोकने के लिए बनायी गयी है यह योजना(air india):

  • एयर इंडिया अपने यात्रियों से उड़ान के दो दिन पहले उनके पसंदीदा खाने के बारे में पूछेगा।
  • जिसके बाद यात्री के पसंदीदा खाने को एयरलाइन्स में उपलब्ध कराया जायेगा।
  • एयर इंडिया ने यह योजना यात्रा के दौरान बर्बाद होने वाले खाने को कम करने के लिए बनायी है।
  • मौजूदा समय में यात्रियों के लिए एयर इंडिया सिक्स कोर्स मेन्यु तैयार करता है।
  • क्योंकि उड़ान के दौरान यात्री मेन्यु में से कुछ भी पसंद कर सकता है।
  • जिसके चलते एयरलाइन्स की यह मजबूरी है कि, वो यात्रियों को उनकी पसंद का खाना उपलब्ध करवाएं।
  • लेकिन यात्री उड़ान के दौरान अमूमन एक या दो तरह के खाने का आर्डर देते हैं।
  • जिसके तहत बाकी खाना बर्बाद हो जाता है।
  • इसलिए एयर इंडिया ने यह योजना बनायी है।

इकॉनमी क्लास के लिए ऑन बोर्ड प्लेटर की सुविधा(air india):

  • साथ ही एयर इंडिया इकॉनमी क्लास के लिए ऑन बोर्ड प्लेटर की भी सुविधा लाने वाली है।
  • जिसके तहत मुसाफिर को यदि खाना पसंद नहीं आता है तो,
  • एयरलाइन्स यात्री को वैकल्पिक भोजन उपलब्ध करा सकती है।
  • हालाँकि, इसमें यात्री के पास ज्यादा विकल्प मौजूद नहीं होंगे।

ये भी पढ़ें: एयर इंडिया के विमान में मिला 2 किलो ड्रग्स!