मेरे कार्यकाल में कई और विवादित फैसले होंगे- CM योगी

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार मंगलवार 27 जून को अपने कार्यकाल के 100 दिन पूरे कर चुकी है, जिसके तहत बुधवार 28 जून को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दूरदर्शन उत्तर प्रदेश को अपना साक्षात्कार दिया था, इसी क्रम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक निजी चैनल को 100 दिन पूरे होने के बाद अपना साक्षात्कार(CM yogi interview) दिया।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के संबोधन के मुख्य अंश(CM yogi interview):

सबका साथ, सबका विकास(CM yogi interview):

  • हिंदुत्व का मतलब ‘सबका साथ, सबका विकास’ है।
  • विकास की राह में हिंदुत्व बाधा नहीं है।
  • अमित शाह ने मुझसे कहा कि, तुम्हे यूपी के सीएम की जिम्मेदारी संभालनी होगी।
  • कौन कहता है कि, हिंदुत्व विकास में बाधक है।

किसी के साथ भी भेदभाव नहीं होगा(CM yogi interview):

  • हम किसी के साथ भेदभाव नहीं करेंगे।
  • मुझे मुख्यमंत्री बनाये जाने के फैसले के खिलाफ पार्टी में कोई नहीं था।
  • पार्टी से बाहर लोग इस फैसले के खिलाफ थे।
  • मुस्लिमों को निशाना बनाने के लिए अवैध बूचड़खानों पर कार्रवाई नहीं की गयी।
  • अवैध बूचड़खानों को बंद करने के पीछे सरकार का कोई गलत इरादा नहीं था।

वक्फ बोर्ड मामले में बोले मुख्यमंत्री(CM yogi interview):

  • ये एंटी-मुस्लिम नहीं है, एंटी-करप्शन है।
  • एंटी रोमियो स्क्वाड उत्तर प्रदेश के लिए शांति लेकर आई है।
  • मेरे कार्यकाल में बहुत सारे विवादित फैसले होने वाले हैं।

राम मंदिर विवाद(CM yogi interview):

  • अगर लोग सोचते हैं कि, इस मुद्दे में मैं मुख्य भूमिका निभा सकता हूँ तो ये मेरे लिए ख़ुशी की बात है।
  • अयोध्या में पत्थर लाने के लिए मेरी इजाजत की जरुरत नहीं है।

ये भी पढ़ें: तस्वीरें: अखिलेश सरकार में बनी सड़क का आज योगी के मंत्री करेंगे उद्घाटन!

बैंक न भेजें किसानों को ऋण वापसी का नोटिस- मुख्य सचिव

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने कार्यकाल की पहली कैबिनेट मीटिंग में सूबे के 86 लाख किसानों का 36 हजार करोड़ रुपये का कर्जमाफ किया था। जिसके तहत मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार 28 जून को राजधानी लखनऊ में स्टेट लेवल बैंक कमेटी(SLBC meeting) के साथ बैठक की थी, बैठक में 86 लाख किसानों की कर्जमाफी योजना को लेकर चर्चा की गयी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की बैठक के बाद सूबे के मुख्य सचिव राहुल भटनागर ने मीडिया से मीटिंग के बाबत बात की।

सरकार का सहयोग करें बैंकों के प्रतिनिधि(SLBC meeting):

  • मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को स्टेट लेवल बैंक कमेटी की बैठक की अध्यक्षता की थी।
  • बैठक के बाद सूबे के मुख्य सचिव राहुल भटनागर ने मीडिया से बात की।
  • उन्होंने बताया कि, बैंकों के प्रतिनिधियों से ऋण माफ़ी के लिए सरकार का सहयोग करने के लिए कहा गया है।
  • मुख्य सचिव ने आगे कहा कि, बैंकों से कहा गया है कि, वो किसानों को ऋण वापसी के लिए नोटिस न भेजें।
  • उन्होंने आगे जानकारी दी कि, सरकार अपने संसाधनों के जरिये किसानों का ऋण माफ़ करेगी।

अगस्त के महीने में पूरी हो जाएगी ऋण माफ़ी की प्रक्रिया(SLBC meeting):

  • मुख्य सचिव ने आगे कहा कि, अगस्त के महीने में किसानों की ऋण माफ़ी की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

ये भी पढ़ें: बिपिन रावत की पाक को चेतावनी, सबक सिखाने के और भी है तरीके!

यूपी में अफसर ‘सर्कस के शेर’ हैं- CM योगी

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने बीते 19 मार्च को शपथ ग्रहण की थी, इसी क्रम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार 27 जून को अपनी सरकार के कार्यकाल के 100 दिन(yogi government 100 days) पूरे किये। योगी सरकार ने अपने 100 दिन पूरे करने के उपलक्ष्य में दूरदर्शन उत्तर प्रदेश को अपना साक्षात्कार दिया। साक्षात्कार में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बीते 100 दिन और आने वाले समय की बात की।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के संबोधन के मुख्य अंश(yogi government 100 days):

  • भीम आर्मी के पीछे खनन माफिया।
  • भीम आर्मी को खनन माफिया की फंडिंग।
  • अवैध खनन से सरकार ने रोका, इसलिए बवाल।
  • किसी दोषी को छोड़ेंगे नहीं, संकल्प है।
  • जेवर गैंगरेप की घटना चिंताजनक।
  • यूपी में नौकरशाह सर्कस के शेर हैं।
  • खुद निर्णय लेने से घबराते हैं अफसर।
  • माया का सहारनपुर जाना अफसरों का गलत निर्णय।
  • माया के सहारनपुर जाने पर भड़के थे योगी।
  • सहारनपुर में DM, SSP का निर्णय मूर्खतापूर्ण।

वक्फ बोर्ड मामले पर बोले सीएम योगी(yogi government 100 days):

  • वक्फ सम्पत्ति को लेकर गड़बड़ी सामने आई।
  • जांच के लिए सीबीआई को रेफर किया।
  • 15 सालों में किसान तबाह हुआ।
  • किसानों को समर्थन मूल्य नहीं मिला।
  • हम किसानों की मदद कर रहे हैं।
  • घटतौली रोकने के लिए सीधे किसानों से खरीद।
  • किसानों के लिए बीजेपी अध्यक्ष से की चर्चा।
  • 37 लाख मीट्रिक टन गेंहू खरीदा।
  • पहली बार सरकार ने इतना गेंहू खरीदा।
  • पहली बार किसानों का आलू खरीदा।
  • आलू किसानों को समर्थन मूल्य दिया गया।
  • हमारी कोशिश हर बच्चा स्कूल जाए।
  • जिलाधिकारियों को भी निर्देश दिए।
  • प्रतिभावान बच्चों को स्कॉलरशिप।
  • दो वर्षों में बुंदेलखंड की तस्वीर बदल देंगे।
  • हिन्दू युवा वाहिनी पर बोले सीएम योगी।
  • कानून कोई भी हाथ में लेगा पुलिस ठीक करेगी।
  • बरेली में सख्त कार्रवाई होगी।

ये भी पढ़ें: भोजपुरी सिंगर सोनिया सिन्हा का गला काट की गई हत्या की कोशिश!

इलाहाबाद में शुरू हुआ दो दिवसीय मैंगो फेस्टिवल!

उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद शहर में बुधवार 28 जून से मैंगो फेस्टिवल की शुरुआत की गयी है, गौरतलब है कि, इलाहाबाद में आयोजित यह मैंगो फेस्टिवल(allahabad mango festival) दो दिवसीय आयोजन है। इस दौरान मैंगो फेस्टिवल में कई प्रकार के कार्यक्रमों का भी आयोजन किया जायेगा।

इलाहाबाद हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस ने किया उद्घाटन(allahabad mango festival):

  • बुधवार से सूबे के इलाहाबाद शहर में दो दिवसीय मैंगो फेस्टिवल की शुरुआत हो चुकी है।
  • मैंगो फेस्टिवल का उद्घाटन इलाहाबाद हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस डीबी भोसले ने किया।
  • इस दौरान उद्घाटन कार्यक्रम में इलाहाबाद हाई कोर्ट के अन्य जज, कमिश्नर और डीएम मौजूद रहे थे।

इलाहाबादी आमों को पहचान दिलाने के लिए आयोजित किया गया है फेस्टिवल(allahabad mango festival):

  • सूबे के इलाहाबाद शहर में बुधवार से दो दिवसीय मैंगो फेस्टिवल की शुरुआत हुई है।
  • कार्यक्रम का उद्घाटन मुख्य न्यायाधीश डीबी भोसले ने किया।
  • फेस्टिवल में इलाहाबादी आमों की कम से कम 50 से अधिक प्रजातियों को प्रदर्शित किया जायेगा।
  • गौरतलब है कि, यह आयोजन इलाहाबादी आमों को पहचान दिलाने के चलते आयोजित किया गया है।

कई प्रकार के कार्यक्रमों का होगा आयोजन(allahabad mango festival):

  • इलाहाबाद में शुरू हुए मैंगो फेस्टिवल में आम खाने की प्रतियोगिता का भी आयोजन किया गया है।
  • इसके अलावा स्कूली बच्चों के लिए निबंध, पेंटिंग का भी आयोजन किया गया है।

ये भी पढ़ें: सरकारी विभागों ने नहीं बनाये ट्विटर एकाउंट!

देखें तस्वीरें: SLBC की बैठक में पहुंचे CM योगी!

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपनी पहली कैबिनेट मीटिंग में प्रदेश के 86 लाख लघु और सीमान्त किसानों का कर्जमाफी की घोषणा की थी। जिसके बाद राज्य सरकार की ओर से जुलाई महीने में किसानों की कर्जमाफी को पूरा करने की बात कही थी। इसी क्रम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बुधवार 28 जून को स्टेट लेवल बैंक कमेटी की बैठक की अध्यक्षता के लिए लखनऊ स्थित बैंक ऑफ़ बड़ौदा के मुख्य कार्यालय पहुंचे थे, जहाँ उन्होंने स्टेट लेवल बैंक कमेटी की बैठक(SLBC meeting) की अध्यक्षता की।

loading ...

36 हजार करोड़ का कर्ज माफ़ करेगी सरकार(SLBC meeting):

  • मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बुधवार को SLBC की बैठक की अध्यक्षता के लिए पहुंचे थे।
  • जिसके तहत बैंक कमेटी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के बीच किसानों की कर्जमाफी के मुद्दे को लेकर बैठक चली।
  • गौरतलब है कि, योगी सरकार प्रदेश के 86 लाख लघु और सीमान्त किसानों को कर्जमाफी का तोहफा देगी।
  • जिसके तहत राज्य सरकार पर कुल 36 हजार करोड़ रुपये का अतिरिक्त भार राजस्व पर आएगा।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सौंपेंगे किसानों की लिस्ट(SLBC meeting):

  • बुधवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने SLBC की मीटिंग की अध्यक्षता की।
  • मीटिंग के तहत मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कमेटी को 86 लाख किसानों की लिस्ट दी।
  • यह सभी किसान सरकार की कर्जमाफी योजना के लाभार्थी हैं।
  • मालूम हो कि, राज्य सरकार ने जुलाई महीने के अंत तक किसानों का कर्जमाफ करने की बात कही है।

ये भी पढ़ें: मुंबई : रैनसमवेयर वायरस से प्रभावित हुई JNPT, काम-काज हुआ ठप्प!

1981 बैच के IAS राजीव हो सकते हैं प्रदेश के मुख्य सचिव!

केंद्र की भाजपा सरकार ने उत्तर प्रदेश में नियुक्ति विभाग में तैनाती के लिए 1981 बैच के आईएएस राजीव कुमार को सूबे में भेजा है, जिसके तहत राजीव कुमार प्रथम(IAS rajeev kumar) बुधवार 28 जून को राजधानी लखनऊ पहुंचेंगे।

नियुक्ति विभाग में लेंगे जॉइनिंग(IAS rajeev kumar):

  • केंद्र सरकार की ओर से यूपी के नियुक्ति विभाग के लिए राजीव कुमार प्रथम को चुना गया है।
  • जिसके चलते आईएएस राजीव कुमार बुधवार को लखनऊ पहुंचेंगे।
  • इसके साथ ही बुधवार को राजीव कुमार प्रथम नियुक्ति विभाग में अपना चार्ज संभालेंगे।
  • गौरतलब है कि, राजीव कुमार 1981 बैच के आईएएस अधिकारी हैं।

मुख्य सचिव बनाये जा सकते हैं राजीव कुमार प्रथम(IAS rajeev kumar):

  • आईएएस राजीव कुमार प्रथम बुधवार को राजधानी लखनऊ पहुंचेंगे।
  • वहीँ ऐसी अटकलें भी लगायी जा रही हैं कि, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ राजीव कुमार को सूबे का मुख्य सचिव बना सकते हैं।
  • गौरतलब है कि, वर्तमान समय में सूबे के मुख्य सचिव राहुल भटनागर हैं, जिनकी तैनाती सपा के कार्यकाल में हुई थी।

मेहनती, कर्मठ और ईमानदार अफसर हैं राजीव कुमार:

  • 1981 बैच के आईएएस अधिकारी राजीव कुमार सूबे के नए मुख्य सचिव हो सकते हैं।
  • हालाँकि, अभी सरकार की ओर से इसकी कोई भी आधिकारिक पुष्टि नहीं की गयी है।
  • वहीँ राजीव कुमार एक शानदार ट्रैक वाले अफसर रहे हैं।
  • राजीव कुमार के बारे में अक्सर मेहनती, कर्मठ और ईमानदार सुनने को मिलता है।
  • इन्हीं कारणों के चलते योगी सरकार आईएएस राजीव को मुख्य सचिव बना सकती है।

 

ये भी पढ़ें: CM योगी आज सौंपेंगे SLBC को किसानों की लिस्ट!

CM योगी आज सौंपेंगे SLBC को किसानों की लिस्ट!

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने अपने कार्यकाल की पहली कैबिनेट मीटिंग में सूबे के करीब 86 लाख सीमान्त और लघु किसानों को कर्जमाफी की सौगात दी थी, जिसके तहत सरकार द्वारा 86 लाख किसानों को सीधे तौर पर फायदा पहुँचाने की बात कही जा रही है। हालाँकि राज्य सरकार पर किसानों की कर्जमाफी को लेकर कई सवाल उठे थे, वहीँ सरकार ने जुलाई माह तक किसानों को कर्ज माफ़ी का फायदा पहुंचाने की घोषणा की थी। जिसके तहत मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बुधवार 28 जून को कर्जमाफी को लेकर बैठक(State level bank committee) करेंगे।

स्टेट लेवल बैंक कमेटी के साथ मुख्यमंत्री योगी करेंगे बैठक(State level bank committee):

  • मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जुलाई माह में सूबे के 86 लाख किसानों के कर्जमाफी पूरा करने का एलान किया था।
  • जिसके तहत बुधवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ स्टेट लेवल बैंक कमेटी के साथ बैठक करेंगे।
  • बैठक की अध्यक्षता मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ करेंगे।
  • यह मीटिंग सुबह 11 बजे से शुरू होकर दोपहर 1 बजे तक चलेगी।
  • इस दौरान किसानों की कर्जमाफी को लेकर चर्चा की जाएगी।

राज्य सरकार सौंपेगी लाभान्वित किसानों की सूची(State level bank committee):

  • मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बुधवार को स्टेट लेवल बैंक कमेटी के साथ बैठक करेंगे।
  • बैठक में राज्य सरकार द्वारा कर्जमाफी के दायरे में आने वाले किसानों की सूची बैंकों को दी जाएगी।
  • इसके साथ ही बैठक में कर्जमाफी के तरीके के साथ ही लाभार्थी किसानों की श्रेणी भी तय की जाएगी।

ये भी पढ़ें: सरकारी अस्पतालों में एंटी-रेबीज वैक्सीन की आपूर्ति ठप!

पूर्व सरकार के दो मंत्रियों समेत 27 लोगों पर चलेगा मुकदमा!

उत्तर प्रदेश की वर्तमान योगी सरकार से विजिलेंस ने प्रदेश के दो पूर्व मंत्रियों समेत 27 लोगों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल करने की इजाजत मांगी है। विजिलेंस ने चार्जशीट दाखिल करने के साथ ही मंत्रियों समेत 27 लोगों पर मुकदमा चलाने की इजाजत मांगी है।

अगले पेज पर जानें पूरा मामला:

पूरा मामला(sand stone scam):

  • उत्तर प्रदेश की योगी सरकार से विजिलेंस टीम ने सूबे के दो पूर्व मंत्रियों समेत 27 लोगों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल करने की इजाजत मांगी है।
  • इसके साथ ही विजिलेंस ने सभी के खिलाफ मुकदमा चलाने की भी इजाजत मांगी है।
  • दरअसल यह मामला पूर्व की बहुजन समाज पार्टी की सरकार के कार्यकाल से जुड़ा हुआ है।
  • बसपा सरकार के कार्यकाल में बने स्मारकों में सैंड स्टोन घोटाले के तहत जांच चल रही थी।
  • मामले के सन्दर्भ में सतर्कता विभाग ने अपनी जांच पूरी कर ली है।
  • जांच पूरी हो जाने के बाद विजिलेंस ने अपनी रिपोर्ट शासन को भेज दी है।
  • रिपोर्ट में बसपा सरकार के पूर्व दो मंत्रियों समेत 27 लोगों के खिलाफ चार्जशीट और मुकदमा चलाने की इजाजत मांगी है।

पूर्व एमडी समेत एक दर्जन से ज्यादा अधिकारी भी दोषी(sand stone scam):

  • बसपा सरकार पर सैंड स्टोन घोटाले में आरोप लगाये गए थे।
  • जिसके चलते मामले की जांच कर रही विजिलेंस की टीम ने अपनी जांच पूरी कर ली है।
  • जांच की रिपोर्ट शासन को भेजी जा चुकी है।
  • रिपोर्ट में 2 पूर्व मंत्रियों समेत 27 लोग नामजद हैं।
  • इसके साथ ही पूर्व एमडी सीपी सिंह समेत निदेशक सहित एक दर्जन से ज्यादा अधिकारियों को दोषी ठहराया गया है।

ये भी पढ़ें: UPA राष्ट्रपति पद उम्मीदवार मीरा कुमार आज भरेंगी नामांकन!

UPA राष्ट्रपति पद उम्मीदवार मीरा कुमार आज भरेंगी नामांकन!

भारत के प्रथम नागरिक और देश के राष्ट्रपति पद का चुनाव आगामी 17 जुलाई को होना है, जिसके तहत केंद्र की NDA सरकार ने बिहार के राज्यपाल रामनाथ कोविंद को अपना राष्ट्रपति उम्मीदवार घोषित किया है। वहीँ UPA ने राष्ट्रपति पद के लिए पूर्व लोकसभा स्पीकर मीरा कुमार(meira kumar) का नाम घोषित किया है।

मीरा कुमार आज भरेंगी अपना नामांकन(meira kumar):

  • भारत के नए राष्ट्रपति के लिए देश में आगामी 17 जुलाई को चुनाव होना है।
  • जिसके लिए NDA के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद ने अपना नामांकन भर दिया है।
  • वहीँ UPA उम्मीदवार मीरा कुमार बुधवार 28 जून को अपना नामांकन भरेंगी।
  • पूर्व लोक सभा स्पीकर मीरा कुमार सुबह करीब 11 बजे दिल्ली स्थित चुनाव आयोग में अपना नामांकन दाखिल करेंगी।

रामनाथ कोविंद हैं मजबूत दावेदार(meira kumar):

  • देश के अगले महामहिम का चुनाव आगामी 17 जुलाई को होना है।
  • जिसके तहत पद के दो उम्मीदवार आमने-सामने आ चुके हैं।
  • वहीँ राष्ट्रपति पद के चुनाव में रामनाथ कोविंद की स्थिति काफी मजबूत लग रही है।
  • जिसका प्रमुख कारण है रामनाथ कोविंद को NDA का समर्थन प्राप्त है।
  • इसके अलावा रामनाथ कोविंद की लोकप्रियता भी मीरा कुमार से अधिक मानी जाती है।
  • NDA उम्मीदवार रामनाथ कोविंद ने अपना प्रचार अभियान लखनऊ से शुरू किया था।
  • गौरतलब है कि, रामनाथ कोविंद मूलतः उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले के रहने वाले हैं।

ये भी पढ़ें: अब बड़े बकायेदारों के नाम सार्वजनिक करेगा UPPCL!